Connect with us
Sunday,05-December-2021

राजनीति

उप्र : योगी ने ‘स्वावलंबन केंद्र’ का किया ऑनलाइन शिलान्यास

Published

on

Yogi-Adityanath

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर सिडबी के ‘स्वावलंबन केंद्र’ का ऑनलाइन शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सिडबी के नए भवन के निर्मित हो जाने से प्रदेश में एमएसएमई सेक्टर से जुड़े कार्यक्रमों को आगे बढ़ाने तथा स्टार्ट-अप की स्थापना करने में सहूलियतें प्राप्त होंगी, जिससे प्रदेश के अंदर एक नई कार्य संस्कृति देखने को मिलेगी।

‘स्वावलंबन केंद्र’ का डिस्प्ले मॉडल देखकर योगी ने विश्वास व्यक्त किया कि यह बिल्डिंग ग्रीन बिल्डिंग के रूप में विकसित की जाएगी, जिसमें ऊर्जा, जल, वेस्ट प्रोडक्ट की बचत के साथ-साथ जल की रीसाइकिलिंग और रीचार्जिग की व्यवस्थाएं होंगी। ग्रीन एनर्जी को प्रोत्साहित करने और जल संरक्षण के अभियान को आगे बढ़ाने के लिए तथा एमएसएमई सेक्टर के प्रोत्साहन के लिए यहां जो व्यवस्थाएं की गई हैं, वह अत्यंत महत्वपूर्ण और आज की जरूरत है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सिडबी द्वारा भारत सरकार के स्टार्ट-अप फंड के निधि प्रबंधन का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में स्टार्ट-अप फंड की स्थापना के लिए लगभग 1000 करोड़ रुपये की लागत से जो कार्यवाही शुरू हुई है, इसमें भी सिडबी ने उत्तर प्रदेश के साथ एक एमओयू हस्ताक्षरित किया है। इससे आत्मनिर्भर भारत तथा लोगों को स्वावलंबी बनाने में मदद मिलेगी।

योगी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा एक अभिनव योजना ओडीओपी योजना लागू की गई है, जो एमएसएमई सेक्टर के लिए गेम चेंजर का काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि दुनिया वैश्विक महामारी कोविड-19 से जूझ रही है। ऐसे में स्टार्ट-अप तथा एमएसएमई क्षेत्र उम्मीद की एक नई किरण हैं। इस चुनौतीपूर्ण समय में सपनों को साकार करने तथा अर्थव्यवस्था को और अधिक सु²ढ़ करने में सिडबी की एक बहुत बड़ी भूमिका हो सकती है। योगी ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था में उत्तर प्रदेश के एमएसएमई सेक्टर बहुत बड़ी भूमिका थी।

गौरतलब है कि ‘स्वावलंबन केंद्र’ यहां शहीद पथ पर लगभग 1 एकड़ क्षेत्रफल में निर्मित होगा। इस भवन को ग्रीन बिल्डिंग के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके साथ ही, इसमें सौर ऊर्जा का भी उपयोग होगा। इसमें 500 लोगों की क्षमता का मल्टी परपज हॉल भी होगा, जिसका कॉन्फ्रेंस और ऑडिटोरियम के रूप में उपयोग किया जा सकेगा। इसके अलावा, इसमें 50 लोगों की क्षमता के 4 मीटिंग रूम भी होंगे। इसमें लाइब्रेरी व अन्य आधुनिक सुविधाएं भी रहेंगी।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)

राजनीति

बाबा विश्वनाथ और रामलला के दरबार में अखिलेश मांगे माफी : स्वतंत्र देव

Published

on

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शनिवार को सपा मुखिया अखिलेश यादव को घेरा और कहा कि बाबा विश्वनाथ और रामलला के दरबार में जाकर माफी मांगनी चाहिये।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा, “सपा मुखिया मौसमी बीमारी से ग्रसित हैं, जिसके प्रभाव के कारण वे सरकार के हर काम को खुद का काम बता रहे हैं। अब उन्हें काशी विश्वनाथ कॉरिडोर भी अपना बनवाया लग रहा है लेकिन वे भूल गए हैं कि उन्होंने केवल हज हाउस का ही फीता काटा था। मंदिर जाने वालों पर तो सपा सरकार ने गोलियां चलवाई थी। अखिलेश जी उत्तर प्रदेश की जनता यह भूली नहीं है, महादेव सब देख रहे हैं। “

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा, “अखिलेश की सरकार के कृत्य मुगल आक्रांता गजनी और गौरी से कम नहीं हैं। उन्होंने भी देश को लूटा था और 2017 से पहले यह भी ऐसा ही करते आये हैं। लोग भूले नहीं हैं कि 2017 के पहले दुर्गा पूजा और रामलीला के पंडाल लगाने के लिए कैसी मिन्नतें करनी पड़ती थीं। “

उन्होंने कहा, “अखिलेश जी समेत पूरा विपक्ष ‘सीजनल हिन्दू’ बनने की प्रतिस्पर्धा में लगा हुआ है। ऐसा केवल चुनावी सीजन होने के कारण ही है, अन्य दिनों में सभी टोपी लगाकर घूमते नजर आएंगे। केवल चुनाव में ही विपक्ष को भगवान याद आते हैं। आस्था के ढोंगियों के हथकंडों को देश और प्रदेश की जनता समझ गई है, इसलिये वह इनकी चालबाजी में नहीं आने वाली है। 2022 के चुनाव में वो इसका जवाब देने के लिए वह एक बार फिर योगी सरकार बनाने का मन बना चुकी है।”

Continue Reading

राजनीति

कोविड महामारी में अनाथ हुए बचे को मिलेगी 10 लाख की सहायता : डब्ल्यूसीडी

Published

on

 कोविड-19 में अपने परिवार को खोने वाले अनाथ बच्चों के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (डब्ल्यूसीडी) ने पोर्टल बनाया है।

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अनुसार जिन्होंने कोविड-19 महामारी के कारण माता-पिता या कानूनी अभिभावक या दत्तक माता-पिता दोनों को खो दिया है।

यह योजना शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए सहायता प्रदान करती है और प्रत्येक बच्चे के 18 वर्ष की आयु तक पहुंचने पर उसके लिए 10 लाख रुपये का कोष बनाएगी।

हालांकि इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कोविड महामारी के कारण कानूनी अभिभावक या दत्तक माता-पिता दोनों को खो चुके बच्चों का समर्थन करने के लिए पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना की घोषणा की थी। फिलहाल पोर्टल के सम्बंध में महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने जानकारी दी है कि अब तक 5491 आवेदन आ चुके हैं, जिनमें से 3049 आवेदनों को उचित प्रक्रिया के बाद जिलाधिकारियों द्वारा अनुमोदित किया गया है और 483 आवेदन अनुमोदन के लिए लंबित हैं।

उन्होंने कहा कि यह योजना शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए सहायता प्रदान करती है और प्रत्येक बच्चे के 18 वर्ष की आयु के होने पर उसके लिए 10 लाख रुपये का कोष तैयार करेगी। इस कोष का उपयोग 18 वर्ष की आयु से मासिक वित्तीय सहायता या वजीफा देने के लिए किया जाएगा। इससे अगले 5 वर्षों के लिए उच्च शिक्षा की अवधि के दौरान अपनी व्यक्तिगत आवश्यकताओं की देखभाल के लिए और 23 वर्ष की आयु तक पहुंचने पर, वह या उसे व्यक्तिगत और व्यावसायिक उपयोग के लिए एकमुश्त राशि के रूप में कॉर्पस राशि मिलेगी। यह योजना एक ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से उपलब्ध है।

इसके साथ ही मंत्रालय बाल संरक्षण सेवा (सीपीएस) योजना नामक एक केंद्र प्रायोजित योजना लागू कर रहा है जिसके तहत राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारों को जरूरतमंद और कठिन परिस्थितियों में बच्चों के लिए सेवाएं प्रदान करने के लिए सहायता प्रदान की जाती है। सीपीएस योजना के तहत स्थापित बाल देखभाल संस्थान (सीसीआई) अन्य बातों के साथ-साथ आयु-उपयुक्त शिक्षा, व्यावसायिक प्रशिक्षण तक पहुंच, मनोरंजन, स्वास्थ्य देखभाल, परामर्श आदि का समर्थन करते हैं और समान रूप से ग्रामीण और शहरी बच्चों को कवर करते हैं। योजना के दिशा-निर्देशों के अनुसार, देखभाल और संरक्षण की आवश्यकता वाले बच्चों की गैर-संस्थागत देखभाल के लिए प्रति माह 2000 रुपये उपलब्ध है और प्रति बच्चा प्रति माह 2160 रुपये के रखरखाव अनुदान का प्रावधान है।

Continue Reading

राजनीति

भूपेश बघेल ने 10 जनपथ पर की प्रियंका गांधी से मुलाकात

Published

on

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को दिल्ली पहुंचकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से 10 जनपथ पर मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच करीब दो घंटे बैठक चली।

गौरतलब है कि इससे पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उत्तर प्रदेश का दौरा किया था। विधानसभा चुनाव को लेकर छत्तीसगढ़ सीएम बघेल ने पार्टी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और समाजसेवी संगठनों से चर्चा की थी।

प्रियंका गांधी से मुलाकात के बाद भूपेश बघेल ने आईएएनएस से कहा कि संगठन को लेकर लगातार प्रियंका गांधी से बातचीत होती रहती है। उत्तर प्रदेश के लोग डर के साये में जी रहे हैं क्योंकि वहां तानाशाही पार्टी सत्ता में है, जहां असहमति की आवाज दबा दी जाती है। बघेल ने दावा किया कि भाजपा ने कोई भी चुनावी वादा पूरा नहीं किया है, इसके बजाय वह मजहबी टिप्पणियों के माध्यम से लोगों का ध्यान बंटाने और आपस में बांटने की ही कोशिश की है।

उन्होंने कहा कांग्रेस एकमात्र पार्टी है जो उत्तर प्रदेश में भाजपा शासन के खिलाफ लड़ रही है। ऐसा लग रहा है कि दो अन्य विपक्षी दल कहीं नहीं हैं।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव होना है।

Continue Reading
Advertisement
अपराध1 day ago

जबरन वसूली मामला: मुंबई पुलिस ने परमबीर सिंह, अन्य के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की

राजनीति1 day ago

बाबा विश्वनाथ और रामलला के दरबार में अखिलेश मांगे माफी : स्वतंत्र देव

अनन्य1 day ago

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में भी कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट ने दी दस्तक

सामान्य1 day ago

दिग्गज पत्रकार विनोद दुआ का निधन

बॉलीवुड1 day ago

अनुराधा पौडवाल ने ‘साजन’ से लेकर ‘बहुत प्यार करते हैं’ की रिकॉर्डिंग के दिनों को किया याद

मनोरंजन1 day ago

दिग्गज कन्नड़ अभिनेता शिवराम का निधन

मनोरंजन1 day ago

चियान विक्रम, बेटे ध्रुव विक्रम ने ‘महान’ की डबिंग पूरी की

अंतरराष्ट्रीय1 day ago

भारत बनाम न्यूजीलैंड दूसरा टेस्ट : दूसरे दिन भारत ने बिना विकेट खोए बनाए 69 रन

राजनीति1 day ago

कोविड महामारी में अनाथ हुए बचे को मिलेगी 10 लाख की सहायता : डब्ल्यूसीडी

राजनीति1 day ago

भूपेश बघेल ने 10 जनपथ पर की प्रियंका गांधी से मुलाकात

राजनीति3 weeks ago

मरने के बाद मुझे दफनाया नहीं जाए, मेरा हो दाह-संस्कार : वसीम रिजवी

सामान्य4 weeks ago

त्रिपुरा में मुस्लिम विरोधी हिंसा को लेकर रज़ा अकादमी ने किया मुंबई बंद का ऐलान

source photo india tv
अपराध3 weeks ago

मालेगांव बंद के दौरान हिंसा की खबर, पुलिस ने किया बल का प्रयोग

महाराष्ट्र1 week ago

कोरोना के नये वेरियंट ओमिक्रॉन की आहट से सरकारें सतर्क, महाराष्ट्र में सरकार ने लागू की नई कोरोना गाइडलाइन्स

महाराष्ट्र1 week ago

महाराष्ट्र में एक दिसंबर से स्कूल फिर से खुलेंगे, शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने की घोषणा

राजनीति2 weeks ago

पीएम मोदी का बड़ा ऐलान- तीनों कृषि कानून वापस लेगी केंद्र सरकार

महाराष्ट्र2 weeks ago

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े को लेकर पेश किया और सबूत, कहा स्कूल के लीविंग सर्टिफिकेट में धर्म है मुस्लिम

सामान्य4 days ago

मुंबई में बारिश से मौसम हुआ सुहाना, मौसम विभाग ने जारी किया यलो अलर्ट

महाराष्ट्र4 weeks ago

बीजेपी नेता आशीष शेलार का नवाब मलिक पर पलटवार, रियाज भाटी की तस्वीरें शरद पवार और सीएम उद्धव ठाकरे के साथ भी हैं..इसका जवाब कौन देगा?

अपराध4 weeks ago

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में अल्लामा इकबाल के पोस्टर पर विवाद, विरोध के बाद हटाई गई तस्वीर

अपराध2 years ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध2 years ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

बॉलीवुड3 years ago

शाहरूख खान की आने वाली फिल्म जीरो का ट्रेलर इस दिन होगा रिलीज

बॉलीवुड3 years ago

पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन का कभी देखा है इतना हॉट लुक

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की के खिलाफ आरपीएफ ने दर्ज किया केस

बॉलीवुड3 years ago

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर अभिनेता नाना पाटेकर जल्द ही देंगे जवाब

मनोरंजन3 years ago

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरूख खान को इस वजह से किया सैलूट

बॉलीवुड3 years ago

जानिए आखिर क्यों गोल्डन गर्ल आशा पारेख ने नहीं की शादी

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की की पहचान आई सामने, जानिए कौन है वो लड़की

अपराध3 years ago

देखिए मुंबई में हुए एक दर्दनांक हादसे का वीडियो

रुझान