Connect with us
Thursday,06-October-2022

महाराष्ट्र

शिवसेना सांसद ने पीएम मोदी से नेताजी के अवशेष भारत लाने की अपील की

Published

on

Shivna-Sarkar

शिवसेना की राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने एक पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस के अवशेष भारत वापस लाए जाएं। नेताजी की बेटी ने भी यही मांग उठाई थी। प्रियंका चतुवेर्दी ने प्रधानमंत्री मोदी और विदेश मंत्रालय को पत्र लिखकर नेताजी के अवशेष भारत लाने की मांग की है। प्रियंका ने पत्र में लिखा है कि हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं और स्वतंत्रता सेनानियों को याद कर रहे हैं। नेताजी के अवशेष भारत आते हैं तो ये उनके बलिदान और देश के लिए किए गए समर्पण को लेकर सच्ची श्रद्धांजलि होगी। यही वजह है कि वो नेताजी की बेटी अनिता बोस फाफ के समर्थन में ये मांग कर रहीं हैं। प्रियंका चतुवेर्दी ने ये पत्र 16 अगस्त को लिखा है।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की बेटी प्रो. अनिता बोस फाफ ने भी हाल ही में सरकार से अपील की थी, कि नेताजी के अवशेष जो जापान में मौजूद हैं, उन्हें भारत लाया जाए और उनका डीएनए टेस्ट करवाया जाए। उन्होंने अपनी मार्मिक अपील में ये भी कहा था कि नेताजी के अवशेष जापान के एक मंदिर में सहेजकर रखे गए हैं।

गौरतलब है कि अंग्रेजी हुकूमत से लड़ने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत सबसे बड़े रहस्यों में से एक है। बताया गया था, कि नेताजी की मौत एक हवाई दुर्घटना में हुई थी। मगर कई लोग ऐसे भी हैं, जो इस बात को सच नहीं मानते। यही वजह है कि नेताजी के अवशेषों को भारत लाने की मांग लगातार उठती रहती है।

महाराष्ट्र

दशहरा रैली से गरजे उध्दव ठाकरे, कहा शिवसैनिक कटप्पा को माफ नहीं करेंगे, शिंदे ने कहा मैंने गद्दारी नहीं की

Published

on

शिवसेना के इतिहास में पहली बार दो स्थानों पर दशहरा रैली आयोजित की गई…उध्दव ठाकरे की अगुवाई वाली शिवसेना ने ऐतिहासिक शिवाजी पार्क में हुई तो वहीं शिंदे गुट ने बीकेसी ग्राउंड पर अपनी दशहरा रैली आयोजित की..दोनों ही रैलियों में कार्यकर्ताओं ने पूरे जोश व खरोश के साथ हिस्सा लिया..

दशहरा रैली के मौके पर शिवसेना पक्ष प्रमुख उध्दव ठाकरे ने शिंदे गुट पर निशाना साधते हुए कहा कि जिसने गद्दारी की है शिवसैनिक ऐसे कटप्पा को माफ नहीं करेंगे…तो वहीं दूसरी ओर शिंदे ने पलटवार करते हुए कहा कि उन्होने गद्दारी नहीं बल्कि गदर किया है…शिंदे के मंच पर उध्दव ठाकरे के भाई जयदेव ठाकरे भाभी स्मिता ठाकरे, भतीजे निहार ठाकरे और भाभी स्मिता ठाकरे भी नजर आई…

एकनाथ शिंदे ने छत्रपति शिवाजी महाराज, बाला साहेब ठाकरे के जयघोष के साथ अपना भाषण शुरू किया। उन्होंने सबसे पहले कहा- गर्व से कहो हम हिंदू है। मीडिया के मन में सवाल था कि असली शिवसेना कहा है। यहां मौजूद भीड़ को देखकर आप समझ गए होंगे कि बाला साहेब के विचारों के असली वारिस कहां हैं।

आप न्यायालय जाकर शिवाजी पार्क ले सकते हैं। मैं राज्य का मुख्यमंत्री हूं, इसलिए मैदान देने के मामले में हस्तक्षेप नहीं करूंगा। मैंने सबसे पहले आवेदन किया था। हमें मैदान मिल सकता था। कानून-व्यवस्था बनाने की जिम्मेदारी हमारी है। मैदान भले ही हमें नहीं मिला, लेकिन शिवसेना प्रमुख बाला साहेब ठाकरे के विचार हमारे साथ हैं।

तो वहीं उध्दव ठाकरे ने कहा कि जब मैं बीमार था, उस समय जिसे जिम्मेदारी दी, उस कटप्पा ने धोखा दिया। उन्हें लगा उद्धव उठ नहीं पाएगा। वे नहीं जानते थे कि ये उद्धव नहीं उद्धव बाला साहेब ठाकरे है। विचित्र बात ये है, हमने सब दिया। मंत्री पद दिया। विधायक बनाया, मंत्री बनाया। जिन्हें दिया, वे नाराज होकर चले गए। जिन्हें दे नहीं पाया, वे निष्ठा से मेरे साथ खड़े हैं।

भाजपा ने पीठ में खंजर भौंका था, इसलिए महाराष्ट्र विकास अघाड़ी बनाई। मैंने हिंदुत्व नहीं छोड़ा। जब मैं मुख्यमंत्री बना, तब ये भी थे। अमित शाह ने कहा हमारे बीच कुछ तय नहीं हुआ था। मैं शिवाजी महाराज के सामने अपने माता-पिता की शपथ लेकर कहता हूं। ढाई-ढाई साल के सीएम बनाने का तय हुआ था। अब जो किया, वो तब क्यों नहीं किया। तुम्हें शिवसेना खत्म करनी थी।

मेरे कार्यकर्ता इसलिए शांत हैं क्योंकि मैं शांत हूं। अगर मैंने शांति छोड़ी तो आपका कानून आपके पास रह जाएगा। शिवसेना किस तरह चलानी है, ये तुम्हें सिखाने की जरूरत नहीं है। तुम मुझे हिन्दुत्व न सिखाए। मैंने बीजेपी को छोड़ा है, हिंदुत्व को नहीं। पाकिस्तान जाकर जिन्ना की कब्र पर घुटने टेकने वाले हमें हिंदुत्व सिखाओगे। नवाज शरीफ के घर खाना खाने वाले हमें हिंदुत्व सिखाओगे। आतंकवादियों से संबंध रखने वाले हमें हिंदुत्व सिखाएंगे।

Continue Reading

महाराष्ट्र

शिवसेना प्रमुख उध्दव ठाकरे और सीएम एकनाथ शिंदे की दशहरा रैली पर लोगों की नजरें, एक दूसरे पर होगा सियासी वार

Published

on

मुंबई के शिवाजी पार्क में बुधवार की शाम शिवसेना की दशहरा रैली होगी..तो वहीं बांद्रा के बीकेसी ग्राउंड पर सीएम एकनाथ शिंदे अपने गुट की हुंकार भरेंगे…वैसे शिवसेना साल 1966 से यहां दशहरा रैली कर रही है, लेकिन इस बार की रैली खास है.. इस बार शिवसेना के अधिकार की लड़ाई सुप्रीम कोर्ट में उद्धव ठाकरे और महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे के बीच चल रही है..

बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश के बाद उध्दव गुट की दशहरा रैला के आयोजन की वीडियो रिकॉडिंग की जाएगी.. अगर कोई अप्रिय घटना होती है तो इसके लिए आयोजक जिम्मेदार होंगे…दोनों गुट की रैलियों पर लोगों की नजरें बनी हुई हैं..संभावना है कि दोनों ही गुट अपने हिंदुत्व के ऐजेंडे़ को लेकर एक दूसरे पर तीखा सियासी वार करेंगे..

इस रैली में ये भी देखना दिलचस्प रहेगा कि शिवसेना के कौन कौन से नेता किस मंच पर रहेंगे..वैसे दोनों की रैसी स्थल पर लोगों का पहुंचना शुरू हो गया है..इसके लिए दोनों ही गुटों ने लोगों और कार्यकर्ताओं को लाने के लिए बसों का इंतजाम किया है..और ये बसे अब धीरे धीरे रैली स्थल पर पहुंचना शुरू हो गई हैं…

Continue Reading

महाराष्ट्र

RSS प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर में विजयादशमी के संबोधन में जनसंख्या नियंत्रण और महिला व शिक्षा सशक्तीकरण जैसे मुद्दो का किया जिक्र

Published

on

नागपुर में बुधवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने विजयादशमी मनाई.. शस्त्र पूजा के दौरान पहली बार महिला मुख्य अतिथि संतोष यादव मौजूद थीं… संतोष दो बार माउंट एवरेस्ट फतेह करने वाली दुनिया की एक मात्र महिला हैं..

संघ के दशहरा समारोह में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, महाराष्ट्र के डिप्टी CM देवेंद्र फडणवीस, सरसंघचालक डा. मोहन भागवत मौजूद थे.. मोहन भागवत ने अपनी स्पीच में एक बार फिर जनसंख्या नियंत्रण, महिला सशक्तिकरण, शिक्षा नीति जैसे मुद्दों का जिक्र किया। कहा- जनसंख्या नियंत्रण और धर्म आधारित जनसंख्या असंतुलन ऐसे मुद्दे हैं, जिसे लंबे समय तक नजरंदाज नहीं किया जा सकता।

भागवत ने महिला मुख्य अथिति की मौजूदगी में एक घंटे तक स्पीच दी। कहा- जो सारे काम पुरुष करते हैं, वह महिलाएं भी कर सकती हैं। लेकिन जो काम महिलाएं कर सकती हैं, वो सभी काम पुरुष नहीं कर सकते। महिलाओं को बराबरी का अधिकार, काम करने की आजादी और फैसलों में भागीदारी देना जरूरी है।

भागवत ने ये भी कहा कि एक व्यापक जनसंख्या नियंत्रण नीति की जरूरत है। जो सभी पर बराबरी से लागू होती हो। राष्ट्रहित को ध्यान में रखते हुए जनसंख्या असंतुलन पर हमें नजर रखनी होगी। जब सभी पर बराबरी से एक नीति लागू होगी तो किसी को भी रियायतें नहीं मिलेंगी। कुछ साल पहले फर्टिलिटी रेट 2.1 था। दुनिया की आशंकाओं से उलट हमने बेहतर किया और इसे 2 तक लेकर आए। लेकिन और नीचे आना खतरनाक हो सकता है। बच्चे समाज का व्यवहार अपने परिवार में सीखते हैं। इसके लिए आपको अपने परिवार में संख्या की जरूरत होती है..

Continue Reading
Advertisement
महाराष्ट्र11 hours ago

दशहरा रैली से गरजे उध्दव ठाकरे, कहा शिवसैनिक कटप्पा को माफ नहीं करेंगे, शिंदे ने कहा मैंने गद्दारी नहीं की

राजनीति13 hours ago

कुल्लू दशहरा में शामिल होने वाले पहले पीएम बने मोदी

अपराध13 hours ago

मुंबई से सटे ठाणे ज़िले के हीरानंदानी हाईराइज बिल्डिंग में लगी आग पर काबू, 10 को बचाया गया

राष्ट्रीय13 hours ago

गुजरात के मुख्यमंत्री ने उद्योगों की सहायता के लिए ‘आत्मनिर्भर गुजरात योजना’ शुरू की

अंतरराष्ट्रीय13 hours ago

अमेजन ने बच्चों के लिए ग्लो वीडियो कॉलिंग और गेमिंग डिवाइस को बंद किया

अंतरराष्ट्रीय13 hours ago

अफ्रीका में अपना पहला क्लाउड क्षेत्र स्थापित करेगा गूगल

बॉलीवुड14 hours ago

जेनेलिया डिसूजा ने दशहरा पर दी बधाइयां

बॉलीवुड14 hours ago

माधुरी दीक्षित ने मुंबई में खरीदा 48 करोड़ रुपये का अपार्टमेंट

अंतरराष्ट्रीय14 hours ago

आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ के लिए भारत के ऑलराउंडर अक्षर पटेल नामित

अंतरराष्ट्रीय14 hours ago

हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना आईसीसी ‘महिला प्लेयर ऑफ द मंथ’ के लिए नामांकित

महाराष्ट्र2 weeks ago

प्रधानमंत्री को जन्मदिन की बधाई देने के बाद महाराष्ट्र के किसान ने की आत्महत्या

राजनीति3 weeks ago

भारत का दूध उत्पादन 6 फीसदी बढ़ा जो वैश्विक औसत से अधिक है : प्रधानमंत्री

अपराध3 weeks ago

चीन के सिचुआन में भूकंप से मरने वालों की संख्या 93 तक पहुंची

राजनीति3 weeks ago

भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी 25 किमी की पदयात्रा करना चाहते : जयराम रमेश

अपराध2 weeks ago

पाकिस्तान सीमा पर बीएसएफ ने 21 करोड़ की हेरोइन और हथियार जप्त किए, ड्रोन से गिराए गए नशीले पदार्थ

महाराष्ट्र3 weeks ago

मीडिया से नाराज हुए अजित पवार, कहा ‘क्या मैं वॉशरूम भी नहीं जा सकता.?’

अंतरराष्ट्रीय3 weeks ago

एशिया कप 2022 : पाकिस्तान के वसीम अकरम, शाहिद अफरीदी ने कहा- श्रीलंका चैंपियन की तरह खेला

महाराष्ट्र4 weeks ago

भारत में कोविड-19 के 5,554 नए मामले दर्ज, 18 मौतें

महाराष्ट्र4 weeks ago

मुंबई दौरे के दौरान अमित शाह की सुरक्षा में लापरवाही का मामला, संदिग्ध शख्स को पुलिस ने किया गिरफ्तार

अपराध2 weeks ago

ईडी की चार्जशीट में पार्थ चटर्जी-अर्पणा मुखर्जी की 103 करोड़ रुपये की संपत्ति दर्ज

रुझान