Connect with us
Sunday,28-November-2021
ताज़ा खबर

राजनीति

प्रधानमंत्री डिजिटल स्वास्थ्य मिशन की 27 सितंबर को घोषणा करेंगे पीएम मोदी

Published

on

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने गुरुवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 27 सितंबर को देश भर में प्रधानमंत्री डिजिटल स्वास्थ्य मिशन शुरू करने की घोषणा करेंगे। फ्लैगशिप योजना का उद्देश्य देश भर में स्वास्थ्य सेवा को डिजिटल बनाना है, जिससे एक देशव्यापी डिजिटल स्वास्थ्य पारिस्थितिकी तंत्र तैयार किया जा सके, जो मरीजों को अपने स्वास्थ्य रिकॉर्ड को डॉक्टरों और उनकी पसंद की स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ साझा करने, एक्सेस करने और सहमति देने में सक्षम बनाएगा।

पीएमडीएचएम का उद्देश्य सभी नागरिकों के लिए स्वास्थ्य आईडी के साथ सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज, डॉक्टरों और स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए अद्वितीय पहचानकर्ता, व्यक्तिगत स्वास्थ्य रिकॉर्ड और टेलीमेडिसिन तथा ई-फामेर्सी, अन्य घटकों के साथ सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज प्रदान करने के लिए एक राष्ट्रव्यापी डिजिटल स्वास्थ्य बुनियादी ढांचा तैयार करना है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पीएम डिजिटल स्वास्थ्य मिशन एक कुशल, सुलभ, समावेशी, किफायती और सुरक्षित तरीके से सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज प्रदान करेगा।

पीएमडीएचएम के तहत डेटा, सूचना और बुनियादी ढांचा सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला के प्रावधान के माध्यम से एक राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य पारिस्थितिकी तंत्र बनाया जाएगा।

भारत के छह केंद्र शासित प्रदेशों – अंडमान और निकोबार, चंडीगढ़, दादरा और नगर हवेली तथा दमन और दीव, लद्दाख, लक्षद्वीप और पुडुचेरी में पहले से ही पीएमडीएचएम की पायलट योजना है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, इसके तहत लोगों को एक यूनिक डिजिटल हेल्थ आईडी प्रदान की जाएगी, जिसमें व्यक्ति के सभी स्वास्थ्य रिकॉर्ड होंगे।

पीएमडीएचएम के तहत प्रदान की गई डिजिटल हेल्थ आईडी में नागरिक के स्वास्थ्य रिकॉर्ड के सभी विवरण होंगे।

इससे पहले दिन में, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने पोस्ट कोविड प्रबंधन पर राष्ट्रीय व्यापक दिशानिर्देश जारी किए। दिशानिर्देश लंबी अवधि के लिए पूर्ण पोस्ट कोविड स्वास्थ्य देखभाल मार्गदर्शन प्रदान करेंगे। ये मॉड्यूल कोविड के दीर्घकालिक प्रभावों से निपटने के लिए पूरे भारत में डॉक्टरों, नर्सों, पैरामेडिक्स और सामुदायिक हेल्थ वर्कर्स की क्षमता के निर्माण में मदद करेंगे।

राजनीति

दिल्ली दौरे में ममता ने नहीं की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया से मुलाकात, अटकले जारी

Published

on

 तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी चार दिनों तक दिल्ली में थी। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात न करके कांग्रेस के अन्य नेताओं से भेंट की। मेघालय में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है और पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा कुछ दिन पहले टीएमसी में शामिल हो गए थे। वहीं, दिल्ली में कीर्ति आजाद और अशोक तंवर भी ममता की पार्टी में शामिल हो गए। हालांकि, तंवर ने 2019 में टीएमसी छोड़ दी थी।

ममता बनर्जी ने इस सप्ताह अपने दौरे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की, लेकिन जब उनसे सोनिया गांधी से मुलाकात के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि हर बार सोनिया से मिलना मेरे लिए जरूरी नहीं है। वहीं, ममता बनर्जी का अगला दौरा मुंबई का है जिसमें उनके राकांपा सुप्रीमो शरद पवार और शिवसेना पार्टी के नेताओं से मुलाकात करने की संभावना है।

हालांकि कांग्रेस इन घटनाक्रमों पर कड़ी नजर बनाए हुए है, लेकिन मामले में अभी तक ममता बनर्जी पर कोई टिप्पणी नहीं की है। कांग्रेस ने प्रशांत किशोर पर कांग्रेस नेताओं को टीएमसी में शामिल करने का आरोप लगाया है।

बता दें कि, ममता बनर्जी बंगाल के अलावा अन्य राज्यों में भी अपनी पार्टी को बढ़ाना चाहती हैं और अन्य राज्यों में टीएमसी का उतरना विपक्ष को संकट में डाल सकती है। जिसका सीधा उदाहरण मेघायल में देखा जा सकता है।

कांग्रेस के गोवा प्रभारी दिनेश गुंडू राव ने प्रशांत किशोर पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि वह टीएमसी प्रमुख को गुमराह कर रहे हैं। उनके इरादे और कुछ हैं, वो यहां सिर्फ बीजेपी की मदद के लिए आए हैं। और मुझे नहीं पता कि ममता दीदी यह जानती हैं या नहीं। लेकिन जो लोग इस पार्टी को चला रहे हैं, उनका एक अलग एजेंडा है। मुझे लगता है, वे ममता दीदी को भी धोखा दे रहे हैं।

हालांकि, संसद के शीतकालीन सत्र से पहले कांग्रेस सरकार के खिलाफ मजबूत गठबंधन बनाने के लिए टीएमसी से बात चल रही है। संविधान दिवस पर विपक्ष ने कार्यक्रम का बहिष्कार किया था लेकिन अब कांग्रेस टीएमसी को शक की नजर से देख रही है। मेघालय के विभाजन ने पार्टी में कोहराम मचा दिया है क्योंकि कांग्रेस पहले से ही पूर्वोत्तर में भाजपा के हमले का सामना कर रही थी।

मुकुल संगमा ने कांग्रेस पार्टी छोड़ने के बाद कहा था, एक प्रभावी विपक्षी दल बनने और लोगों की इच्छा के अनुसार उनकी सेवा करने के लिए हम तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए हैं। विंसेंट एच पाला ने कहा कि जो नेता छोड़ के जा रहे हैं उससे पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ेगा। लेकिन मैं कांग्रेस छोड़ रहे नेताओं को रोकने के लिए कुछ खास नहीं कर सका। कांग्रेस इन सभी नेताओं को उच्च सदन में नहीं भेज सकी। यह राजस्थान, छत्तीसगढ़ और पंजाब को छोड़कर अधिकांश राज्यों में सत्ता से बाहर है और महाराष्ट्र और झारखंड में गठबंधन सरकार चला रही है।

बता दें कि, मेघालय में कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका लगा है, कांग्रेस के 12 विधायक तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। उनमें मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा भी शामिल हैं। वह पार्टी के राज्य में दिग्गज नेता माने जाते थे।

Continue Reading

महाराष्ट्र

कोरोना के नये वेरियंट ओमिक्रॉन की आहट से सरकारें सतर्क, महाराष्ट्र में सरकार ने लागू की नई कोरोना गाइडलाइन्स

Published

on

कोरोना वायरस के नये वेरियंट ओमिक्रॉन की आहट के बीच महाराष्ट्र में सरकार ने लॉकडाउन के प्रतिबंधों को तो पूरी तरह से हटा लिया है लेकिन कुछ नई पाबंदियों के तहत नई गाइडलाइन्स जारी कर दी है..जिसका उल्लंघन करने पर भारी जुर्माने का प्रावधान भी किया गया है..नई गाइडलाइन्स की मुताबिक केवल कोरोना के दोनों डोज या फिर 72 घंटे के भीतर के RT-PCR टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट का सर्टिफिकेट साथ लेकर चलना जरूरी है…क्या है सरकार की पूरी नई गाइडलाइन्स आइए कुछ बिंदुओं में समझते हैं…

1)- किसी भी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्ति फुल्ली वैक्सीनेटेड होंगे तभी वह हिस्सा ले सकते हैं

2)- दुकान, मॉल, थिएटर इन जगहों पर लोगों को सर्विस देने वाले पूरी तरह से वैक्सीनेटेड होने चाहिए

3)- कोई भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट इस्तेमाल करने वाला फुल्ली वैक्सीनेटेड होना चाहिए

4)- सरकार ने फुली वैक्सीनेटेड लोगों को तीन कैटेगरी में रखा है
पहली कैटेगरी में वे है जिन्होंने अपनी दोनों डोज ले ली हो और दूसरी डोज लेने के 14 दिन बीत गया है वे फुली वैक्सीनेटेड माने जाएंगे

5)- दूसरी कैटेगरी में वे लोग फुली वैक्सीनेटेड माने जाएंगे जिन्हें कोरोना का टीका नहीं लगाया जा सकता किन्ही मेडिकल कारणों के चलते ऐसे में उन्हें किसी वैलिड मेडिकल प्रैक्टिशनर से एक सर्टिफिकेट लेनी होगी

6)- और तीसरी श्रेणी में 18 साल से कम उम्र के युवाओं को रखा गया है

7)- दुनिया भर से आने वाले पैसेंजर को भारत सरकार के गाइड लाइन को फॉलो करना होगा

8)- देश के सभी हिस्सों से महाराष्ट्र में आने वाले लोगों को फुल्ली वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट दिखाना होगा या तो 72 घंटे पहले तक निकाले गए rtpcr की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी

9)- थिएटर, शादी का हॉल, सिनेमा हॉल इन जगहों की कैपेसिटी की तुलना में 50 फ़ीसदी लोगों को ही अनुमति दी जाए।

10)- पब्लिक ट्रांसपोर्ट या फिर प्राइवेट कार में सफर कर रहे लोग अगर मास्क पहने नहीं पाएंगे तो उन पर 500 की फाइन लगेगी साथ ही रुमाल को मास्क नहीं माना जाएगा और अगर कोई रुमाल को मास्क के तौर पर इस्तेमाल कर रहा है तो उस पर भी फाइन लगेगा।

11)- गाड़ी में अगर कोई मास्क नहीं लगाया होगा तो उसके साथ-साथ ड्राइवर, कंडक्टर और हेल्पर पर भी 500 रुपये का दंड लगाया जाएगा साथ ही बस मालिक पर 10000 रुपये की फाइन लगेगी।

Continue Reading

राजनीति

सुखबीर बादल व अन्य अकाली नेताओं ने चंडीगढ़ में दी गिरफ्तारी

Published

on

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने पार्टी नेता बिक्रम सिंह मजीठिया को दवाओं के एक ‘झूठे’ मामले में फंसाने की पंजाब की कांग्रेस सरकार की ‘साजिश’ के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए शनिवार को पार्टी की कोर कमेटी के सदस्यों के साथ गिरफ्तारी दी। बाहर भारी सुरक्षा के बावजूद पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने बैरिकेडिंग को तोड़कर मुख्यमंत्री आवास तक मार्च किया और सामने ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

शिअद प्रमुख ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिद्धू राज्य सरकार को मजीठिया के खिलाफ झूठा मामला दर्ज करने का निर्देश देकर अतिरिक्त संवैधानिक कदम उठा रहे हैं।

उन्होंने कहा, “मुख्यमंत्री और राज्य के गृहमंत्री ने न केवल कांग्रेस सरकार की विफलताओं से ध्यान हटाने के लिए इस मांग पर सहमति व्यक्त की है, बल्कि डीजीपी को झूठा मामला दर्ज करने का भी निर्देश दिया है। इस मामले में शिअद बहुत स्पष्ट है। सभी अगले साल राज्य में शिअद-बसपा गठबंधन की सरकार बनने के बाद ऐसे लोगों पर मुकदमा चलाया जाएगा। हम अकाली कार्यकर्ताओं के खिलाफ दर्ज मामलों सहित इन झूठे मामलों की जांच के लिए एक आयोग भी गठित करेंगे।”

बादल ने यह भी स्पष्ट किया कि अकाली दल इस तरह के हथकंडों से नहीं डरेगा।

शिअद नेता ने कहा, “हम लोगों के पक्ष में आवाज उठाना जारी रखेंगे और कांग्रेस द्वारा किए गए वादों को पूरा करने की मांग करेंगे।”

उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी के वरिष्ठ लोगों और कार्यकर्ताओं के खिलाफ दमन और प्रतिशोध के कृत्यों के साथ-साथ लड़ना जारी रखेगी।

पार्टी के वरिष्ठ नेतृत्व की गिरफ्तारी की घोषणा करते हुए बादल ने कहा, “कांग्रेस सरकार ने बेअदबी और नशीले पदार्थो के संवेदनशील मुद्दों का लगातार राजनीतिकरण किया है। इसे ध्यान में रखते हुए पार्टी के शीर्ष नेताओं और मैंने डीजीपी से मुलाकात की। साजिश का खुलासा हालांकि शिअद ने किया था। अब बिक्रम मजीठिया को ड्रग्स के झूठे मामले में फंसाने के लिए एक और साजिश रची गई है। हम इस साजिश का भी पदार्फाश करेंगे।”

इस बीच, सीएम आवास की ओर बढ़ने से पहले, बादल और मजीठिया दोनों ने संविदा शिक्षक सोहन सिंह से बात की, जो एमएलए फ्लैटों के पास एक बीएसएनएल टावर पर चढ़ गए थे।

उन्हें अवगत कराया गया कि संविदा शिक्षकों के वेतन में कटौती और उनकी सेवाओं को नियमित करने में सरकार की विफलता के विरोध में संविदा शिक्षक टावर पर चढ़ गए।

Continue Reading
Advertisement
अपराध1 min ago

यूपी: गैस के गुब्बारों में विस्फोट होने से 4 बच्चे घायल

अपराध7 mins ago

दाऊद इब्राहिम की सांठगांठ से आतंकियों के हाथ लग सकता है पाक का परमाणु-हथियार

अपराध10 mins ago

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शरजील इमाम को दी जमानत

अपराध13 mins ago

प्रयागराज हत्या मामले को लेकर आप करेगी विरोध प्रदर्शन

राजनीति15 mins ago

दिल्ली दौरे में ममता ने नहीं की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया से मुलाकात, अटकले जारी

महाराष्ट्र21 mins ago

कोरोना के नये वेरियंट ओमिक्रॉन की आहट से सरकारें सतर्क, महाराष्ट्र में सरकार ने लागू की नई कोरोना गाइडलाइन्स

अंतरराष्ट्रीय15 hours ago

पहला टेस्ट : तीसरे दिन का खेल खत्म, न्यूजीलैंड को 296 पर रोककर भारत ने 63 रनों की बनाई बढ़त

अपराध15 hours ago

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आतंकवादियों के 2 सहयोगियों को किया गिरफ्तार

राजनीति16 hours ago

सुखबीर बादल व अन्य अकाली नेताओं ने चंडीगढ़ में दी गिरफ्तारी

महाराष्ट्र17 hours ago

महाराष्ट्र में सभी लॉकडाउन प्रतिबंध हटे, महामारी से पहले जैसे हालात लौट आए

राजनीति2 weeks ago

मरने के बाद मुझे दफनाया नहीं जाए, मेरा हो दाह-संस्कार : वसीम रिजवी

सामान्य3 weeks ago

त्रिपुरा में मुस्लिम विरोधी हिंसा को लेकर रज़ा अकादमी ने किया मुंबई बंद का ऐलान

महाराष्ट्र4 weeks ago

हज 2022 के लिए आवेदन आज से शुरू, पूरी प्रक्रिया होगी ऑनलाइन

source photo india tv
अपराध2 weeks ago

मालेगांव बंद के दौरान हिंसा की खबर, पुलिस ने किया बल का प्रयोग

महाराष्ट्र1 week ago

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े को लेकर पेश किया और सबूत, कहा स्कूल के लीविंग सर्टिफिकेट में धर्म है मुस्लिम

राजनीति1 week ago

पीएम मोदी का बड़ा ऐलान- तीनों कृषि कानून वापस लेगी केंद्र सरकार

महाराष्ट्र3 weeks ago

भू-माफिया फराज मिस्त्री की अवैध बिल्डिंग से सैकड़ों लोगों की जान खतरे में, नगरसेविका आफरीन शेख और बीएमसी की साठगांठ पर उठ रहे सवाल?

अपराध3 weeks ago

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में अल्लामा इकबाल के पोस्टर पर विवाद, विरोध के बाद हटाई गई तस्वीर

महाराष्ट्र2 weeks ago

ड्रग्स मामले में नवाब मलिक ने शेयर किया गोसावी और काशिफ खान का चैट, कहा काशिफ ने क्यों नहीं हो रही है पूछताछ

महाराष्ट्र3 weeks ago

बीजेपी नेता आशीष शेलार का नवाब मलिक पर पलटवार, रियाज भाटी की तस्वीरें शरद पवार और सीएम उद्धव ठाकरे के साथ भी हैं..इसका जवाब कौन देगा?

अपराध2 years ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध2 years ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

बॉलीवुड3 years ago

शाहरूख खान की आने वाली फिल्म जीरो का ट्रेलर इस दिन होगा रिलीज

बॉलीवुड3 years ago

पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन का कभी देखा है इतना हॉट लुक

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की के खिलाफ आरपीएफ ने दर्ज किया केस

बॉलीवुड3 years ago

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर अभिनेता नाना पाटेकर जल्द ही देंगे जवाब

मनोरंजन3 years ago

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरूख खान को इस वजह से किया सैलूट

बॉलीवुड3 years ago

जानिए आखिर क्यों गोल्डन गर्ल आशा पारेख ने नहीं की शादी

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की की पहचान आई सामने, जानिए कौन है वो लड़की

अपराध3 years ago

देखिए मुंबई में हुए एक दर्दनांक हादसे का वीडियो

रुझान