Connect with us
Tuesday,07-December-2021
ताज़ा खबर

राजनीति

प्रधानमंत्री ने शुरू की आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना, बोले – अब गरीब का बच्चा बन सकेगा डॉक्टर

Published

on

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने कहा अब गरीब का बच्चा भी डॉक्टर बन सकेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आजादी के बाद के लंबे कालखंड में स्वास्थ्य सुविधाओं पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितनी देश को जरूरत थी। देश में जिनकी लंबे समय तक सरकारें रहीं, उन्होंने देश के हेल्थकेयर सिस्टम के संपूर्ण विकास के बजाय, उसे सुविधाओं से वंचित रखा। यूपी में जिस तेजी के साथ नए मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं, उसका बहुत अच्छा प्रभाव मेडिकल की सीटों और डॉक्टरों की संख्या पर पड़ेगा। ज्यादा सीटें होने की वजह से अब गरीब माता-पिता का बच्चा भी डॉक्टर बनने का सपना देख सकेगा और उसे पूरा कर सकेगा।

मोदी ने कहा कि जो काम दशकों पहले हो जाने चाहिए, उसे अब किया जा रहा है। हम पिछले सात साल से लगातार सुधार कर रहे हैं। अब बहुत बड़े स्केल पर इस काम को करना है। इस तरह का हेल्थ सिस्टम बनता है तो रोजगार के अवसर भी पैदा होते हैं। यह मिशन आर्थिक आत्मनिर्भरता का भी माध्यम है। स्वास्थ्य सेवा पैसा कमाने का जरिया नहीं है। पहले जनता का पैसा घोटालों में जाता था। आज बड़े बड़े प्रोजेक्ट में पैसा लग रहा है। आजादी के बाद 70 साल में जितने डॉक्टर मेडिकल कॉलेज से पढ़कर निकले हैं उससे ज्यादा अगल दस साल में मिलने जा रहे हैं। जब ज्यादा डॉक्टर होंगे तो गांव गांव में डॉक्टर उपलब्ध होंगे। यही नया भारत है जहां आकांक्षाओं से बढ़ते हुए नए नए काम हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि देश ने कोरोना महामारी से अपनी लड़ाई में 100 करोड़ वैक्सीन डोज के बड़े पड़ाव को पूरा किया है। बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद से, मां गंगा के अविरल प्रताप से, काशीवासियों के अखंड विश्वास से, सबको मुफ्त वैक्सीन का अभियान सफलता से आगे बढ़ रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के हेल्थ सेक्टर के अलग-अलग गैप्स को एड्रेस करने के लिए आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्च र मिशन के 3 बड़े पहलू हैं। पहला, डायग्नोनास्टिक और ट्रीटमेंट के लिए विस्तृत सुविधाओं के निर्माण से जुड़ा है। आज केंद्र और राज्य में वो सरकार है जो गरीब, दलित, शोषित-वंचित, पिछड़े, मध्यम वर्ग, सभी का दर्द समझती है।

कहा कि देश में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करने के लिए हम दिन रात एक कर रहे हैं। योजना का दूसरा पहलू, रोगों की जांच के लिए टेस्टिंग नेटवर्क से जुड़ा है। इस मिशन के तहत, बीमारियों की जांच, उनकी निगरानी कैसे हो, इसके लिए जरूरी इंफ्रास्ट्रक्च र का विकास किया जाएगा

बीते सालों की एक और बड़ी उपलब्धि अगर काशी की रही है, तो वो है बीएचयू का फिर से दुनिया में श्रेष्ठता की तरफ अग्रसर होना। आज टेक्नॉलॉजी से लेकर हेल्थ तक, बीएचयू में अभूतपूर्व सुविधाएं तैयार हो रही हैं। देशभर से यहां युवा साथी पढ़ाई के लिए आ रहे हैं।

मोदी ने कहा कि आज काशी का हृदय वही है, मन वही है, लेकिन काया को सुधारने का ईमानदारी से प्रयास हो रहा है। जितना काम वाराणसी में पिछले 7 साल में हुआ है, उतना पिछले कई दशकों में नहीं हुआ।

उन्होंने कहा कि छोटे शहरों में अगर अस्पताल थे तो इलाज करने वाले नहीं थे। बड़े शहरों की ओर भागो तो वहां भीड़ रहती थी। आज हेल्थ सिस्टम को सुधारा जा रहा है। कोशिश है कि बीमारी जल्द पकड़ में आए और देरी न हो। कोशिश है कि ब्लाक, तहसील स्तर तक सुविधाएं उपलब्ध हों। हेल्थ वेलनेस सेंटर खोले जा रहे हैं। यहां बीमारियों को शुरूआत में ही पकड़ने की सुविधा होगी। यहां फ्री दवा, फ्री सलाह सबकुछ फ्री मिलेगा। बीमारी जल्द पता चलती है तो उसका इलाज आसान होगा। सवा सौ जिलों में रेफरल की सुविधा दी जाएगी। इसके अलावा राज्यों में भी सर्जरी से जुड़े नेटवर्क को सशक्त किया जा रहा है।

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र कांग्रेस: भारत में पहले से लागू है पुतिन का ‘गवर्नेंस मॉडल’

Published

on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की यात्रा पर कटाक्ष करते हुए महाराष्ट्र कांग्रेस ने कहा है कि भारत में कॉरपोरेट्स की तुलना में अतिथि गणमान्य व्यक्ति का ‘गवर्नेंस मॉडल’ पहले से ही काम कर रहा है। प्रदेश कांग्रेस महासचिव सचिन सावंत ने एक बयान में कहा कि राष्ट्रपति पुतिन के नेतृत्व में रूसी व्यवसायी उस देश के तीन ‘कार्डिनल रूल्स’ का पालन कर रहे हैं।

सावंत ने ट्वीट कर कहा, “ये हैं: विपक्ष को कोई दान नहीं, सरकार की आलोचना नहीं और विपक्ष को कोई समर्थन नहीं। भारत में इन्हीं शर्तों का पालन कॉरपोरेट्स द्वारा किया जा रहा है।”

पिछले हफ्ते भारत के चुनाव आयोग (ईसीआई) को सौंपे गए नए प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट (पीईटी) वित्तीय का हवाला देते हुए, कांग्रेस नेता ने कहा कि उन्होंने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और उसके सहयोगियों को केवल 95.64 प्रतिशत का चौंका देने वाला दान दिया है, जबकि बाकी (एक मामूली 4.36 प्रतिशत) विपक्ष की झोली में गया है।

सावंत ने 2020-2021 में कुल 245.70 करोड़ रुपये के दान के बारे में कहा, पीईटी ने भाजपा को 209 करोड़ रुपये का दान दिया और उसके दो सहयोगियों- बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले जनता दल (यूनाइटेड) को 25 करोड़ रुपये और केंद्रीय मंत्री पीके पारस के नेतृत्व वाली लोक जनशक्ति पार्टी को 1 करोड़ रुपये का दान दिया।

दूसरी ओर, देश की मुख्य विपक्षी पार्टी, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को लालू प्रसाद यादव की राष्ट्रीय जनता दल के लिए एक समान राशि के साथ सिर्फ 2 करोड़ रुपये मिले।

हालांकि, यूपीए और महाराष्ट्र दोनों में कांग्रेस की सहयोगी, शरद पवार के नेतृत्व वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को 5 करोड़ रुपये मिले, लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी को 1.70 करोड़ रुपये मिले।

सावंत ने कहा, “पीईटी द्वारा अन्य सभी दलों की अनदेखी की गई.. पिछले कुछ वर्षों में, विपक्षी दलों को कॉरपोरेट चंदे में भारी गिरावट आई है, लेकिन सत्तारूढ़ भाजपा और उसके सहयोगियों के लिए अभूतपूर्व रूप से बढ़ोत्तरी देखने को मिली है।”

उन्होंने तर्क दिया कि चुनावी बांड विपक्षी दलों को कॉरपोरेट फंडिंग के लिए भूखा रखने के इरादे से तैयार किए गए थे, लेकिन “जब कोई समान अवसर नहीं है, तो लोकतंत्र अच्छे आकार में नहीं हो सकता है।”

सावंत ने तीखे स्वर में कहा, “मोदी सरकार का संविधान दिवस मनाना एक पाखंडी कृत्य था, क्योंकि इन्होंने खुद लोकतंत्र और संविधान दोनों को कमजोर किया है।”

दिलचस्प बात यह है कि जनता निर्वाचक इलेक्टोरल ट्रस्ट, एबीजी इलेक्टोरल ट्रस्ट, ट्रायम्फ इलेक्टोरल ट्रस्ट और न्यू डेमोक्रेटिक इलेक्टोरल ट्रस्ट जैसे अन्य लोगों ने 2020-2021 की अवधि के लिए किसी भी राजनीतिक दल को ‘शून्य’ योगदान घोषित किया है।

Continue Reading

राजनीति

मेरठ की ‘परिवर्तन संदेश रैली’ में बोले अखिलेश, अगले चुनाव में किसान अपनी ताकत दिखलाएंगे

Published

on

मेरठ में आयोजित परिवर्तन संदेश रैली ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने नया नारा देते हुए कहा कि “किसानों का इंकलाब होगा, बाइस में बदलाव होगा।”

इस रैली में पहली बार समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल एक साथ मंच पर आए। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव और जयंत चौधरी दोनों नेता एक ही हेलिकॉप्टर से मेरठ के दबथुआ पहुंचे।

इस मौके पर रैली को संबोधित करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भाजपा पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी सरकार बनी तो किसानों की सम्मान निधि योजना 6 हजार से बढ़ाकर 12 हजार रूपये कर दी जाएगी। उन्होंने गन्ने का मूल्य बढ़ाने का भी आश्वासन दिया।

इस अवसर पर राष्ट्रीय लोकदल के प्रमुख चौधरी जयन्त सिंह ने रैली में बीजेपी सरकार पर तंज कसते हुए कहा, “डबल इंजन की सरकार का देखा आपने क्या हाल है, बिजनौर में विधायक ने नारियल फोड़ा, सड़क टूट गई।”

इसके साथ ही उन्होंने रैली में कहा कि “आज इसी मंच से वो गठबंधन का ऐलान करते हैं। यह डबल इंजन की सरकार आएगी और प्रदेश को नए आयाम तक ले जाएगी।”

चौधरी जयन्त सिंह ने किसानों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि एक साथ किसानों पर वार हुआ, किसानों का अपमान हुआ, लेकिन भाजपा के किसी भी नेता की एक शब्द बोलने की हिम्मत नहीं हुई।

परिवर्तन संदेश रैली को संबोधित करते हुए जयतं चौधरी ने कहा, “भाजपा में कुछ नेता जब शामिल हुए तब घोड़े थे, और अब खच्चर बना दिया गए । योगी औरंगजेब पर बात शुरू करते हैं और अंत में पलायन पर आ जाते हैं। पेपर दिला नहीं पाते.. मजबूर होकर नौजवान दूसरे प्रदेश जाकर नौकरी ढूंढते हैं, योगी जी को ये पलायन नहीं दिखता । “

जयंत चौधरी ने कहा, ‘जब हमारी सरकार बनेगी तो सबसे पहले मेरठ में किसानों के लिए एक स्मारक हम बनाएंगे, जिससे शहीद किसानों की कुबार्नी याद रखी जाए।

Continue Reading

राजनीति

विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यसभा की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित

Published

on

राज्यसभा में विपक्ष के हंगामे के बीच मंगलवार को कोई कामकाज नहीं हो सका और अब सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित कर दी गई है। सुबह 11 बजे कार्यवाही शुरू होने के बाद सदन को पहले दोपहर 2 बजे तक के लिए और फिर तीन बजे तक के लिए स्थगित किया गया। इसके बाद सरोगेसी बिल पर चर्चा शुरू होते ही इसे आखिरकार दिन भर के लिए स्थगित कर दिया गया।

विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सदन से 12 सांसदों के निलंबन का मुद्दा उठाया और राजद सांसद मनोज झा ने भी मुद्दे को उठाया, लेकिन सभापति ने खारिज कर दिया।

पर्यावरण मंत्री भूपिंदर यादव ने भी एक मुद्दा उठाया कि कांग्रेस नेता जयराम रमेश दूसरी सीट से बोल रहे हैं। इस दौरान विपक्षी सदस्यों की ओर से की जा रही नारेबाजी के बाद उपाध्यक्ष ने सदन को दिन भर के लिए स्थगित कर दिया।

विरोध करने वाले निलंबित सांसदों से माफी मांगने की मांग के साथ सत्ता पक्ष और विपक्षी सदस्यों के बीच गतिरोध कायम रहा। माफी मांगने की बात को विपक्ष ने अस्वीकार कर दिया गया और इसने जोर देकर कहा कि उनकी गलती नहीं है।

खड़गे ने कहा, “सांसदों का निलंबन संविधान के खिलाफ है क्योंकि यह घटना पिछले सत्र की है और शीतकालीन सत्र में उन्हें निलंबित करना गलत है।”

इससे पहले, शरद पवार सहित विपक्षी नेता विरोध करने वाले सांसदों के साथ शामिल हुए और खड़गे ने कहा कि विपक्ष सांसदों के साथ है और वे एक दिन का उपवास रखेंगे।

खड़गे, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और अन्य विपक्षी सांसदों ने संसद भवन में गांधी प्रतिमा के सामने निलंबित सांसदों के समर्थन में विरोध प्रदर्शन किया।

निलंबित सांसदों में कांग्रेस के सैयद नसीर हुसैन, अखिलेश प्रसाद सिंह, फूलो देवी नेताम, छाया वर्मा, रिपुन बोरा और राजमणि पटेल शामिल हैं। इसके अलावा इनमें शिवसेना नेता प्रियंका चतुवेर्दी और अनिल देसाई; सीपीआई-एम के एलाराम करीम, सीपीआई के बिनॉय विश्वम और तृणमूल कांग्रेस के डोला सेन और शांता छेत्री भी शामिल हैं।

Continue Reading
Advertisement
अनन्य18 mins ago

‘गांधी का भारत’ अब ‘गोडसे का भारत’ बनता दिख रहा : महबूबा मुफ्ती

अनन्य1 hour ago

2025 तक 10 में से 5 शीर्ष वाहन निर्माता अपने स्वयं के चिप्स डिजाइन करेंगे : गार्टनर

अनन्य1 hour ago

नवाजुद्दीन सिद्दीकी: पुरस्कार से मुझे अपना काम चुनने में आत्मविश्वास मिलता हैं

अनन्य1 hour ago

‘कैटविक’ की शादी में शामिल नहीं होंगे सलमान खान! दोनों बहनों के मौजूद रहने की संभावना

महाराष्ट्र1 hour ago

महाराष्ट्र कांग्रेस: भारत में पहले से लागू है पुतिन का ‘गवर्नेंस मॉडल’

राजनीति2 hours ago

मेरठ की ‘परिवर्तन संदेश रैली’ में बोले अखिलेश, अगले चुनाव में किसान अपनी ताकत दिखलाएंगे

राजनीति2 hours ago

विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यसभा की कार्यवाही दिन भर के लिए स्थगित

अंतरराष्ट्रीय3 hours ago

माइक्रोसॉफ्ट ने चीन समर्थित हैकरों द्वारा उपयोग की जाने वाली वेबसाइटों पर किया नियंत्रण

राजनीति3 hours ago

प्रधानमंत्री का सपा पर निशाना, बोले, ‘लाल टोपी वालों को सिर्फ लालबत्ती से मतलब’

बॉलीवुड3 hours ago

‘आरआरआर’ से राम चरण का नया पोस्टर हुआ रिलीज

राजनीति3 weeks ago

मरने के बाद मुझे दफनाया नहीं जाए, मेरा हो दाह-संस्कार : वसीम रिजवी

source photo india tv
अपराध4 weeks ago

मालेगांव बंद के दौरान हिंसा की खबर, पुलिस ने किया बल का प्रयोग

महाराष्ट्र1 week ago

कोरोना के नये वेरियंट ओमिक्रॉन की आहट से सरकारें सतर्क, महाराष्ट्र में सरकार ने लागू की नई कोरोना गाइडलाइन्स

महाराष्ट्र2 weeks ago

महाराष्ट्र में एक दिसंबर से स्कूल फिर से खुलेंगे, शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने की घोषणा

राजनीति3 weeks ago

पीएम मोदी का बड़ा ऐलान- तीनों कृषि कानून वापस लेगी केंद्र सरकार

महाराष्ट्र3 weeks ago

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े को लेकर पेश किया और सबूत, कहा स्कूल के लीविंग सर्टिफिकेट में धर्म है मुस्लिम

सामान्य6 days ago

मुंबई में बारिश से मौसम हुआ सुहाना, मौसम विभाग ने जारी किया यलो अलर्ट

महाराष्ट्र4 weeks ago

बीजेपी नेता आशीष शेलार का नवाब मलिक पर पलटवार, रियाज भाटी की तस्वीरें शरद पवार और सीएम उद्धव ठाकरे के साथ भी हैं..इसका जवाब कौन देगा?

अपराध4 days ago

ओमिक्रॉन ने बढ़ाई मुंबई की टेंशन, विदेशों से आए कई लोग पॉजिटिव, जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया सैंपल

अपराध4 weeks ago

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में अल्लामा इकबाल के पोस्टर पर विवाद, विरोध के बाद हटाई गई तस्वीर

अपराध2 years ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध2 years ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

बॉलीवुड3 years ago

शाहरूख खान की आने वाली फिल्म जीरो का ट्रेलर इस दिन होगा रिलीज

बॉलीवुड3 years ago

पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन का कभी देखा है इतना हॉट लुक

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की के खिलाफ आरपीएफ ने दर्ज किया केस

बॉलीवुड3 years ago

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर अभिनेता नाना पाटेकर जल्द ही देंगे जवाब

मनोरंजन3 years ago

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरूख खान को इस वजह से किया सैलूट

बॉलीवुड3 years ago

जानिए आखिर क्यों गोल्डन गर्ल आशा पारेख ने नहीं की शादी

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की की पहचान आई सामने, जानिए कौन है वो लड़की

अपराध3 years ago

देखिए मुंबई में हुए एक दर्दनांक हादसे का वीडियो

रुझान