Connect with us
Sunday,04-December-2022

राजनीति

सपा के गढ आजमगढ़ में भगवा फहराने की फिराक में भाजपा

Published

on

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मिशन 2022 सत्ता दोहराने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। इसी के तहत अब उसने सपा का गढ़ कहे जाने वाले आजमढ़ में भगवा फहराने की फिराक में जुट गयी है। इसी लिहाज से 13 नवंबर को आजमगढ़ में राज्य विष्वविद्यालय की नींव भाजपा के चणक्य माने जाने वाले गृहमंत्री अमित शाह के हाथों रखी जा रही है।

हलांकि, आजमगढ़ भाजपा के लिए ज्यादा मुफीद नहीं रहा है। यहां पर मोदी लहर के बावजूद 2017 में सपा ने 10 में से पांच सीटें जीती थी, जबकि भाजपा को महज एक सीट से संतोष करना पड़ा था। शेष बसपा के खाते में गयी थी।

सपा के इस मजबूत किले को भाजपा इस बार किसी तरह तोड़ना चाहती है। इसके लिए भाजपा के चाणक्य अमित शाह खुद यहां पर 13 नवम्बर को रैली करेंगे। अमित शाह पिछले सप्ताह लखनऊ प्रवास के दौरान योगी सरकार के मंत्रियों और संगठन के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर सियासी माहौल भांपने के बाद अब वह अपना रूख पूर्वांचल की ओर किया है। यहां पर वह सपा के मजबूत दुर्ग आजमगढ़ और प्रधानामंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र काषी में पार्टी नेताओं और पदाधिकारियों के साथ बैठक कर 2022 की चुनावी रणनीति बनाएंगे।

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि आजमगढ़ सपा का मजबूत गढ़ रहा है। मोदी लहर में भी भाजपा का प्रदर्शन अच्छा नहीं था। लिहाजा, इस बार भाजपा दमखम के साथ चुनाव मैदान में उतरने जा रही है। इसकी कमान खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संभाली है। साल 2017 के चुनाव में भाजपा को फूलपुर पवई सीट पर जीत मिली थी। इस सीट से भाजपा के अरुणकांत यादव विधायक हैं। नौ सीटें सपा और बसपा के खाते में गई थीं। इसी कारण भाजपा यहां पर अपने प्रदर्शन को और अच्छा करना चाहती है।

उन्होंने बताया यहां पर अमित शाह कई बैठकें करेंगे। शाह इस दौरान अलग-अलग सांगठनिक बैठकों के साथ ही समाज में पैठ रखने वाले लोगों के साथ चर्चा करेंगे। इस दौरान अमित शाह प्रधानमंत्री मोदी के काशी क्षेत्र के विधानसभा सीटों पर सक्रिय दावेदार, पूर्व प्रत्याशी, विधायक सहित अन्य लोगों की समीक्षा भी करेंगे। आजमगढ़ में विधानसभा की दस सीटें हैं। इसी कड़ी में राज्य विश्वविद्यालय की नींव डाली जा रही है। पार्टी का प्रयास है कि 2022 के विधानसभा चुनाव में और ज्यादा सीटें जीती जा सकें।

यहां पर फूलपुर पवई, गोपालपुर, दीदारगंज, मुबारकपुर, मेंहनगर (सुरक्षित), लालगंज (सुरक्षित), अतरौलिया, सगड़ी, आजमगढ़ सदर और निजामाबाद सीटें आती हैं।

अगर पुराने राजनीतिक परिस्थितियों को देखे तो यहां पर मोदी लहर में भी भाजपा लालगंज और आजमगढ़ लोकसभा सीट नहीं जीत पाई थी। 2014 में आजमगढ़ से सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने चुनाव जीता था। 2019 के लोकसभा चुनाव में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यहां से भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल निरहुआ को हराया था। हालांकि 2014 के के चुनाव भाजपा ने अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित लालगंज पर चुनाव जीता था।

सपा के पूर्व राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य व वरिष्ठ नेता रजनीश राय का कहना है कि सपा का यहां पर कोई तोड़ नहीं है। इस बार जनता सपा को पहले से ज्यादा प्यार देगी। भाजपा सिर्फ झूठ और नफरत की राजनीति करती है। जनता इनके चेहरे को पहचान गयी है। उन्होंने कहा कि कोरोनाकाल में सपा के सिपाहियों ने पूरे सिद्दत के साथ काम किया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव लगातार निरीक्षण भी करते थे। वह रिपोर्ट भी लेते थे। यहां पर सपा को कोई विकल्प नहीं है।

दूसरी ओर, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष विजय बहादुर पाठक ने कहा कि हमने 47 विधायकों से अपनी पार्टी का विस्तार किया। 2017 में हमें जनता ने 325 सीटें दी है। 70-80 सीटें हम नहीं जीत पाए थे। जो नहीं जीते थे। उसे जीतना है। उसी क्रम में आजमगढ़ भी है। यहां पर भाजपा सीटें जीतने के लिए संपर्क-संवाद काम हो रहा है। आजमगढ़ में कमल खिलाने की तैयारी हो रही है।

अंतरराष्ट्रीय समाचार

अमेरिका में नवंबर में 263,000 नौकरियां निकली

Published

on

jobs

वाशिंगटन, 3 दिसम्बर (आईएएनएस)| दशकों में सबसे आक्रामक ब्याज दर वृद्धि के बावजूद अमेरिका में नवंबर में नौकरियों की संख्या में वृद्धि जारी रही। शुक्रवार को प्रकाशित श्रम विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, गैर-फार्म पेरोल पिछले महीने 263,000 चढ़ गए, बेरोजगारी दर 3.7 प्रतिशत थी।

समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, नवंबर की वृद्धि अक्टूबर की संशोधित 284,000 नौकरियों की तुलना में एक छोटी सी गिरावट थी।

नौकरियों में वृद्धि फेडरल रिजर्व की आक्रामक दर वृद्धि पर अंकुश लगाने की संभावना नहीं है, जिसका उद्देश्य गर्म अर्थव्यवस्था को धीमा करना और 40 वर्षों में सबसे खराब मुद्रास्फीति को कम करना है।

नवंबर के लिए प्रति घंटे औसत मजदूरी में 0.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई। यह डॉव जोन्स द्वारा सर्वेक्षण किए गए अर्थशास्त्रियों के अनुमान से दोगुना है, और इसका मतलब है कि केंद्रीय बैंक द्वारा दरों में बढ़ोतरी को कम करने की संभावना नहीं है।

आय में साल-दर-साल आधार पर 5.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई और यह अर्थशास्त्रियों के 4.6 प्रतिशत पूवार्नुमानों से कहीं अधिक थी।

ब्याज दर में वृद्धि अमेरिकी शेयर बाजार के साथ कहर बरपा रही है और संभावित खरीदारों के लिए घर खरीदना अधिक कठिन बना रही है।

नौकरियों की रिपोर्ट जारी होने के बाद डॉव जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज 200 अंक से अधिक गिर गया, इस डर से कि एक नौकरी बाजार फेड को और भी आक्रामक कार्रवाई करने के लिए प्रेरित कर सकता है।

प्रिंसिपल एसेट मैनेजमेंट की मुख्य वैश्विक रणनीतिकार सीमा शाह ने सीएनबीसी को बताया, “नीतिगत दरों में 375 आधार अंकों की वृद्धि के बाद भी 263,000 नौकरियां पैदा करना कोई मजाक नहीं है।”

“नीति दरों में वृद्धि जारी रखने के लिए फेड पर श्रम बाजार काफी तेजी और दबाव है।”

फेड को मुद्रास्फीति को धीमा करने और मंदी को ट्रिगर करने से बचने के बीच एक नाजुक संतुलन बनाना चाहिए।

हालांकि, कई अर्थशास्त्री इस बात से सहमत हैं कि संयुक्त राज्य अमेरिका में अगले साल मंदी देखने को मिलेगी, भले ही यह अल्पकालिक और हल्की हो।

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय समाचार

यूके में कोविड के मामले एक हफ्ते में फिर से 10 लाख से ऊपर

Published

on

UK

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (ओएनएस) के अनुसार ब्रिटेन में कोविड-19 मामलों की संख्या फिर से दस लाख से अधिक हो गई है, जो एक नई लहर का संकेत हैं। समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने शुक्रवार को ओएनएस के हवाले से कहा कि ब्रिटेन में वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 21 नवंबर तक सप्ताह में 6 प्रतिशत बढ़ी है। 17 अक्टूबर को समाप्त सप्ताह के बाद से देश भर में संक्रमण में यह पहली वृद्धि है। ब्रिटेन की राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के साप्ताहिक आंकड़ों के मुताबिक पिछले सप्ताह की तुलना में अस्पताल में फ्लू के मरीजों की संख्या में 40 फीसदी का उछाल आया है।

यूके स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (यूकेएचएसए) ने कहा कि पिछले सप्ताह अस्पताल में प्रवेश दर और गहन देखभाल में प्रवेश दर में और वृद्धि हुई है।

एक बयान में यूकेएचएसए में पब्लिक हेल्थ प्रोग्राम्स की निदेशक मैरी रामसे ने कहा सर्दियों में संक्रमण अधिक होने की आशंका है, क्योंकि इस दौरान लोग घर के अंदर ज्यादा घुलते-मिलते हैं।

Continue Reading

अंतरराष्ट्रीय समाचार

जी7 ने रूसी तेल पर मूल्य सीमा को दी मंजूरी

Published

on

crude oil


वाशिंगटन, 3 दिसंबर :
यूक्रेन के खिलाफ मॉस्को के जारी युद्ध के बीच जी7 देशों के समूह और उसके सहयोगी देशों ने रूसी तेल की कीमतों पर 60 डॉलर प्रति बैरल की सीमा तय करने को मंजूरी दे दी है। यह 5 दिसंबर के बाद लागू होगा। शनिवार की सुबह जारी एक संयुक्त बयान में जी 7 और ऑस्ट्रेलिया ने कहा कि मूल्य कैप लगाने का निर्णय रूस को यूक्रेन के खिलाफ युद्ध से लाभ उठाने से रोकने के लिए लिया गया है। उसने कहा कि इस कदम का उद्देश्य वैश्विक ऊर्जा बाजारों में स्थिरता का समर्थन करना और युद्ध के नकारात्मक आर्थिक प्रभावों को कम करना है, विशेष रूप से निम्न और मध्यम आय वाले देशों पर, जो युद्ध से प्रभावित हुए हैं।

जी7 के नेतृत्व वाली नीति पर हस्ताक्षर करने वाले देशों को केवल समुद्र के माध्यम से परिवहन किए जाने वाले तेल और पेट्रोलियम उत्पादों को खरीदने की अनुमति होगी, जो मूल्य सीमा पर या उससे कम पर बेचे जाते हैं। यह योजना 60 डॉलर प्रति बैरल से अधिक का भुगतान करने वाले देशों को रोकती है।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार जब सितंबर में जी7 देशों ने 65-70 डॉलर की कीमत सीमा रखी थी, तो पोलैंड, लिथुआनिया और एस्टोनिया ने इसे बहुत अधिक कहकर खारिज कर दिया था।

इस बीच व्हाइट हाउस राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने मूल्य सीमा समझौते का स्वागत करते हुए कहा कि यह रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की आक्रामकता को कम करेगा।

हालांकि रूस ने इस योजना की निंदा करते हुए कहा है कि वह उन देशों को तेल की आपूर्ति नहीं करेगा जिन्होंने मूल्य सीमा लागू की है।

Continue Reading
Advertisement
Kisi Ka Bhai Kisi Ki Jaan
बॉलीवुड16 hours ago

सलमान ने पूरी की ‘किसी का भाई किसी की जान’ की शूटिंग

बॉलीवुड16 hours ago

राजामौली को ‘आरआरआर’ के लिए मिला सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार

TWITTER P
अंतरराष्ट्रीय18 hours ago

प्रतिदिन 90 अरब ट्वीट इम्प्रेशन दे रहा ट्विटर : मस्क

jobs
अंतरराष्ट्रीय समाचार18 hours ago

अमेरिका में नवंबर में 263,000 नौकरियां निकली

delhi high court
अनन्य19 hours ago

हाई कोर्ट ने मैला ढोने वाले मृतक के परिजनों को मुआवजे पर दिल्ली सरकार से जवाब मांगा

Delhi-Police-Arrest
अपराध19 hours ago

दिल्ली: महिला से ठगी करने वाला फरार ईरानी गिरफ्तार

UK
अंतरराष्ट्रीय समाचार21 hours ago

यूके में कोविड के मामले एक हफ्ते में फिर से 10 लाख से ऊपर

crude oil
अंतरराष्ट्रीय समाचार21 hours ago

जी7 ने रूसी तेल पर मूल्य सीमा को दी मंजूरी

Kerala Chief Minister
राजनीति21 hours ago

केरल के मुख्यमंत्री ने लंदन दौरे पर खर्च किए 43 लाख, आरटीआई से खुलासा

Delhi's air improves
Monsoon22 hours ago

दिल्ली की हवा ‘बेहद खराब’ श्रेणी में पहुंची

AirIndia
व्यापार3 weeks ago

उद्योग निकायों एफआईए, एएपीए में शामिल हुई एयर इंडिया

अपराध3 weeks ago

अपनी प्रेमिका को 35 टुकड़ों में काटने के बाद, आशिक ने उन्हें स्टोर करने के लिए फ्रिज खरीदा

सामान्य4 weeks ago

मुंबई के सरकारी जेजे अस्पताल में मिली 132 साल पुरानी सुरंग

'Fadu'
बॉलीवुड3 weeks ago

‘फाडू’ का टीजर जारी

arrest
अपराध2 weeks ago

शराब के नशे में केरल हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के साथ की गाली-गलौज, हिरासत में शख्स

Pak PM
अंतरराष्ट्रीय समाचार3 weeks ago

पाक प्रधानमंत्री और सीएमजी के बीच हुई खास बातचीत

NCP minister
महाराष्ट्र3 weeks ago

पूर्व राकांपा मंत्री पर भाजपा कार्यकर्ता से छेड़छाड़ का आरोप

महाराष्ट्र4 weeks ago

शिंदे सरकार के कैबिनेट मंत्री अब्दुल सत्तार की विवादित टिप्पणी पर राज्य में चढ़ा सियासी पारा, NCP ने किया कई शहरों में प्रदर्शन

BJP-MLA
अपराध2 weeks ago

कर्नाटक : गुस्साएं ग्रामीणों ने फाड़े भाजपा विधायक के कपड़े, दस गिरफ्तार

अपराध3 weeks ago

मुंबई हवाईअड्डे से 32 करोड़ रुपये के 61 किलो सोने के साथ सात गिरफ्तार

रुझान