Connect with us
Tuesday,26-October-2021
ताज़ा खबर

राजनीति

पंजाब के नए ‘कप्तान’ के कैबिनेट में 6 नए चेहरे

Published

on

पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने फरवरी-मार्च 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले रविवार को अपने मंत्रिपरिषद का विस्तार करते हुए छह मंत्रियों सहित 15 मंत्रियों को शामिल किया। पिछली अमरिंदर सिंह सरकार के कई मंत्रियों को बरकरार रखा गया है, जिसमें दोनों महिला मंत्री अरुणा चौधरी और रजिया सुल्ताना शामिल हैं। रजिया को बतौर प्रमुख मुस्लिम चेहरा मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है।

राजभवन के प्रांगण में आयोजित एक सादे समारोह में राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने नए मंत्रियों को पद की शपथ दिलाई।

दो बार के विधायक परगट सिंह (जालंधर छावनी), अमरिंदर सिंह राजा वारिंग (43) (गिद्दरबाहा) और गुरप्रीत कोटली (48) (खन्ना), चार बार के विधायक काका रणदीप सिंह नाभा (54) (अमलोह) और तीन बार के विधायक राज कुमार वेरका (58) (अमृतसर-पश्चिम) और संगत सिंह गिलजियान (68) (उरमार) मंत्रिमंडल में नए चेहरे हैं।

वेरका वाल्मीकि समुदाय के नेता हैं, जबकि गिलजियान अन्य पिछड़े वर्गो का प्रतिनिधित्व करते हैं। अन्य जाट सिख हैं।

दो बार के विधायक कुलजीत नागरा (फतेहगढ़ साहिब) कैबिनेट बर्थ के लिए सबसे आगे थे, लेकिन राहुल गांधी से नजदीकी के बावजूद आखिरी वक्त में सूची से उनका नाम हटा दिया गया।

हालांकि, नागरा और गिलजियान को हाल ही में राज्य इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में चुना गया था।

अकाली दल के बागी परगट सिंह हॉकी ओलंपियन से नौकरशाह और फिर राजनेता बने हैं। उन्हें राज्य महासचिव के रूप में नियुक्त किया गया है।

कोटली और वारिंग ने छात्र संघ के नेताओं के रूप में काम करके अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की।

कोटली के दादा दिवंगत बेअंत सिंह 1992 से 1995 तक मुख्यमंत्री थे। उनके पिता तेज प्रकाश सिंह ने राज्य परिवहन मंत्री के रूप में कार्य किया है।

राहुल गांधी द्वारा चुने गए युवा नेता वारिंग ने 2012 में गिद्दड़बाहा से पीपुल्स पार्टी ऑफ पंजाब के तत्कालीन प्रमुख मनप्रीत सिंह बादल को हराकर विधानसभा में पदार्पण किया। वह 2014 में भारतीय युवा कांग्रेस के अध्यक्ष थे।

पिछली अमरिंदर सिंह कैबिनेट के जिन पांच मंत्रियों को हटा दिया गया है, वे हैं बलबीर सिद्धू, गुरप्रीत कांगड़, राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी, साधु सिंह धर्मसोत और सुंदर शाम अरोड़ा।

हालांकि, ब्रह्म मोहिंद्रा (छह बार विधायक), मनप्रीत बादल (पांच बार विधायक), तृप्त राजिंदर बाजवा (चार बार विधायक), साथ ही चौधरी, रजिया सुल्ताना, और सुखबिंदर सिंह सरकारिया (तीन बार के विधायक), भारत भूषण आशु (दो बार विधायक) और विजय इंदर सिंगला (पहली बार विधायक) को बरकरार रखा गया है।

मोहिंद्रा, सिंगला और आशु प्रमुख हिंदू चेहर हैं, जो अमरिंदर सिंह से निकटता के लिए जाने जाते हैं।

शिरोमणि अकाली दल के बागी मनप्रीत बादल, जो पिछली अमरिंदर सिंह सरकार और प्रकाश सिंह बादल के नेतृत्व वाली पिछली शिअद सरकार में वित्त मंत्री थे, उन्होंने राहुल गांधी के साथ निकटता के कारण चन्नी को सत्ता में लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उनका वही पोर्टफोलियो बनाए रखे जाने की संभावना है।

पूर्व सिंचाई मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने कम से कम छह विधायकों की आपत्तियों के बावजूद चार साल बाद आश्चर्यजनक वापसी की। नागरा की कीमत पर उन्हें बाद में शामिल किया गया।

अमरिंदर सिंह के मंत्रिमंडल में रहे एक मंत्री ने रेत खदानों के आवंटन के संबंध में एक कथित घोटाले के बाद पद छोड़ दिया था।

58 वर्षीय चन्नी ने 20 सितंबर को अपने दो डिप्टी सुखजिंदर सिंह रंधावा और ओपी सोनी के साथ मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी, दोनों पिछली मंत्रिपरिषद में मंत्री थे।

अमरिंदर सिंह ने 18 सितंबर को राज्य कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू के साथ राजनीतिक खींचतान के बाद 18 सितंबर को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने कहा है कि ‘अपमानित’ महसूस करने के कारण पद छोड़ दिया।

यह संकेत देते हुए कि वह अभी भी अपने राजनीतिक विकल्प खुले रख रहे हैं, उन्होंने कहा कि वह अपने भविष्य के कार्यो पर निर्णय लेने से पहले अपने दोस्तों से बात कर रहे हैं।

राजनीति

सुरक्षा बलों का ढृढ़ संकल्प लोगों को सुरक्षित महसूस कराता है : अमित शाह

Published

on

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यहां एक सैनिक सम्मेलन में कहा कि देश के सुरक्षा बलों का ढृढ़ संकल्प ही लोगों को सुरक्षित महसूस कराता है। अमित शाह ने सोमवार को अपनी जम्मू-कश्मीर यात्रा के तीसरे दिन सीआरपीएफ कैंप, लेथपोरा, पुलवामा में सैनिक सम्मेलन को संबोधित किया।

सीआरपीएफ कैंप के दौरे के दौरान गृह मंत्री के साथ उपराज्यपाल मनोज सिन्हा भी थे।

जवानों को संबोधित करते हुए, केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि सीआरपीएफ शिविर में उनका दौरा जम्मू-कश्मीर की उनकी तीन दिवसीय यात्रा का सबसे महत्वपूर्ण कार्यक्रम है।

“मैं सीआरपीएफ कैंप में जवानों के साथ एक रात बिताना चाहता हूं। अनुभव और कठिनाइयों को जानना चाहता हूं और राष्ट्र के लिए भावना और जुनून को देखना चाहता हूं।”

“आप माइनस 43 से प्लस 43 डिग्री तापमान में भी देश की सुरक्षा के लिए चौबीसों घंटे तैयार हैं।”

गृह मंत्री ने कहा, “यही वह संकल्प है जिसने देश के लोगों को सुरक्षित महसूस कराया कि वे चैन की नींद सो सकते हैं।”

“जब अनुच्छेद 370 और 35ए को हटा दिया गया था, तो अटकलें थीं कि एक बड़ी प्रतिक्रिया और रक्तपात की संभावना होगी, लेकिन हमारे सुरक्षा बलों की मुस्तैदी के कारण, किसी को एक भी गोली नहीं चलानी पड़ी।”

“बिना किसी रक्तपात के, कश्मीर में विकास का एक नया युग शुरू हो गया है।

“जम्मू और कश्मीर में कानून व्यवस्था की स्थिति में काफी सुधार हुआ है।”

“2014 से 2021 तक, नागरिक मौतों की संख्या 208 से घटकर 30 हो गई है और सुरक्षा बलों के शहीद सैनिकों की संख्या 105 से घटकर 60 हो गई है, जो दर्शाता है कि इस निर्णय को जम्मू और कश्मीर के लोगों ने भी स्वीकार किया है।”

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा, “एक समय था जब कश्मीर में पथराव आम बात थी, लेकिन आज इस तरह की घटनाएं भी बहुत कम हो गई हैं।”

उन्होंने कहा, “2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद देश में जिस तरह का विकास हो रहा है, हमें विश्वास है कि जल्द ही भारत दुनिया की शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं में से एक में अपनी जगह मजबूत करेगा।”

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री ने आजादी का अमृत महोत्सव को यादगार बनाने के लिए अलग तरीके से मनाने का फैसला किया है। जब हम आजादी के सौ साल मनाएंगे तो भारत कहां होगा, लक्ष्य तय करने का भी समय आ गया है। हमारे संकल्प को मजबूत करें।

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, “अगर शांति, सुरक्षा है, चुने हुए प्रतिनिधि विकास के लिए कृतसंकल्प हैं तो क्या बदलाव हो सकता है, जम्मू-कश्मीर इसका उदाहरण है।”

“आज जम्मू-कश्मीर में विकास तेज गति से हो रहा है, निवेश आ रहा है, सभी राष्ट्रीय स्तर के संस्थान आ रहे हैं, जम्मू-कश्मीर हर पहलू में बदलने लगा है।”

Continue Reading

राजनीति

पिछले पांच वर्षों में भारत का रक्षा निर्यात 334 प्रतिशत बढ़ा : राजनाथ सिंह

Published

on

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि पिछले पांच वर्ष में भारत का रक्षा निर्यात 334 प्रतिशत बढ़ा है और देश 75 से अधिक देशों को निर्यात कर रहा है। डेफएक्सपो 2022 पर राजदूतों के गोलमेज सम्मेलन में अपने संबोधन के दौरान, सिंह ने कहा कि भारत का निर्यात प्रदर्शन रक्षा उत्पादों की गुणवत्ता और प्रतिस्पर्धा का एक मजबूत संकेतक है।

10 मार्च से 13 मार्च तक गुजरात के गांधीनगर में डिफेंस एक्सपो 2022 की योजना है।

उन्होंने कहा कि भारत सरकार रक्षा आधुनिकीकरण और क्षमताओं के विकास का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध है और 2021-22 के वार्षिक बजट में रक्षा पूंजी परिव्यय में पिछले वर्ष की तुलना में 18.75 प्रतिशत की वृद्धि की है।

सिंह ने कहा, “यह पिछले 15 वर्षो में अब तक की सबसे अधिक वृद्धि है।”

राजदूतों से बात करते हुए, उन्होंने कहा कि आज की दुनिया तेजी से एक समग्र और एकीकृत समग्र बनने की ओर बढ़ रही है, जहां आपसी लक्ष्य और हित तेजी से परिवर्तित हो रहे हैं।

इस संदर्भ में इस तरह के मंचों पर विचारों के आपसी आदान-प्रदान से बंधनों को मजबूती मिलती है और एक-दूसरे के हितों की बेहतर समझ होती है, साथ ही संभावित सहयोग और संयुक्त प्रयासों की पहचान भी होती है।

सिंह ने कहा, “हमारी सरकार ने हमारे सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण और उच्च गुणवत्ता और लागत प्रभावी हथियार प्रणालियों और प्लेटफॉर्मो का उत्पादन करने के लिए कई पहल की हैं।”

मंत्री ने जोर देकर कहा कि भारतीय एयरोस्पेस और रक्षा विनिर्माण क्षेत्र आज नई ऊंचाइयों पर आगे बढ़ने के लिए तैयार है।

मंत्री ने कहा कि डिफेंस एक्सपो-2022 इस बात का अवलोकन प्रदान करने जा रहा है कि भारत रक्षा अनुसंधान एवं विकास और उत्पादन के मामले में क्या हासिल करने में सक्षम है।

उन्होंने राजदूतों को आश्वासन दिया कि गुजरात में संस्कृति, कला, भोजन और शांति की इतनी समृद्धि है कि डेफएक्सपो-2022 भाग लेने वाले प्रतिनिधियों पर एक स्थायी छाप छोड़ेगा।

Continue Reading

राजनीति

प्रधानमंत्री ने शुरू की आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना, बोले – अब गरीब का बच्चा बन सकेगा डॉक्टर

Published

on

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने कहा अब गरीब का बच्चा भी डॉक्टर बन सकेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आजादी के बाद के लंबे कालखंड में स्वास्थ्य सुविधाओं पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितनी देश को जरूरत थी। देश में जिनकी लंबे समय तक सरकारें रहीं, उन्होंने देश के हेल्थकेयर सिस्टम के संपूर्ण विकास के बजाय, उसे सुविधाओं से वंचित रखा। यूपी में जिस तेजी के साथ नए मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं, उसका बहुत अच्छा प्रभाव मेडिकल की सीटों और डॉक्टरों की संख्या पर पड़ेगा। ज्यादा सीटें होने की वजह से अब गरीब माता-पिता का बच्चा भी डॉक्टर बनने का सपना देख सकेगा और उसे पूरा कर सकेगा।

मोदी ने कहा कि जो काम दशकों पहले हो जाने चाहिए, उसे अब किया जा रहा है। हम पिछले सात साल से लगातार सुधार कर रहे हैं। अब बहुत बड़े स्केल पर इस काम को करना है। इस तरह का हेल्थ सिस्टम बनता है तो रोजगार के अवसर भी पैदा होते हैं। यह मिशन आर्थिक आत्मनिर्भरता का भी माध्यम है। स्वास्थ्य सेवा पैसा कमाने का जरिया नहीं है। पहले जनता का पैसा घोटालों में जाता था। आज बड़े बड़े प्रोजेक्ट में पैसा लग रहा है। आजादी के बाद 70 साल में जितने डॉक्टर मेडिकल कॉलेज से पढ़कर निकले हैं उससे ज्यादा अगल दस साल में मिलने जा रहे हैं। जब ज्यादा डॉक्टर होंगे तो गांव गांव में डॉक्टर उपलब्ध होंगे। यही नया भारत है जहां आकांक्षाओं से बढ़ते हुए नए नए काम हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि देश ने कोरोना महामारी से अपनी लड़ाई में 100 करोड़ वैक्सीन डोज के बड़े पड़ाव को पूरा किया है। बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद से, मां गंगा के अविरल प्रताप से, काशीवासियों के अखंड विश्वास से, सबको मुफ्त वैक्सीन का अभियान सफलता से आगे बढ़ रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के हेल्थ सेक्टर के अलग-अलग गैप्स को एड्रेस करने के लिए आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्च र मिशन के 3 बड़े पहलू हैं। पहला, डायग्नोनास्टिक और ट्रीटमेंट के लिए विस्तृत सुविधाओं के निर्माण से जुड़ा है। आज केंद्र और राज्य में वो सरकार है जो गरीब, दलित, शोषित-वंचित, पिछड़े, मध्यम वर्ग, सभी का दर्द समझती है।

कहा कि देश में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करने के लिए हम दिन रात एक कर रहे हैं। योजना का दूसरा पहलू, रोगों की जांच के लिए टेस्टिंग नेटवर्क से जुड़ा है। इस मिशन के तहत, बीमारियों की जांच, उनकी निगरानी कैसे हो, इसके लिए जरूरी इंफ्रास्ट्रक्च र का विकास किया जाएगा

बीते सालों की एक और बड़ी उपलब्धि अगर काशी की रही है, तो वो है बीएचयू का फिर से दुनिया में श्रेष्ठता की तरफ अग्रसर होना। आज टेक्नॉलॉजी से लेकर हेल्थ तक, बीएचयू में अभूतपूर्व सुविधाएं तैयार हो रही हैं। देशभर से यहां युवा साथी पढ़ाई के लिए आ रहे हैं।

मोदी ने कहा कि आज काशी का हृदय वही है, मन वही है, लेकिन काया को सुधारने का ईमानदारी से प्रयास हो रहा है। जितना काम वाराणसी में पिछले 7 साल में हुआ है, उतना पिछले कई दशकों में नहीं हुआ।

उन्होंने कहा कि छोटे शहरों में अगर अस्पताल थे तो इलाज करने वाले नहीं थे। बड़े शहरों की ओर भागो तो वहां भीड़ रहती थी। आज हेल्थ सिस्टम को सुधारा जा रहा है। कोशिश है कि बीमारी जल्द पकड़ में आए और देरी न हो। कोशिश है कि ब्लाक, तहसील स्तर तक सुविधाएं उपलब्ध हों। हेल्थ वेलनेस सेंटर खोले जा रहे हैं। यहां बीमारियों को शुरूआत में ही पकड़ने की सुविधा होगी। यहां फ्री दवा, फ्री सलाह सबकुछ फ्री मिलेगा। बीमारी जल्द पता चलती है तो उसका इलाज आसान होगा। सवा सौ जिलों में रेफरल की सुविधा दी जाएगी। इसके अलावा राज्यों में भी सर्जरी से जुड़े नेटवर्क को सशक्त किया जा रहा है।

Continue Reading
Advertisement
अपराध5 mins ago

कश्मीर में पाकिस्तान समर्थक नारे लगाने वाले छात्रों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

Odishas-COVID-19
सामान्य14 mins ago

भारत में कोरोनावायरस के 12,428 नए मामले

अपराध18 mins ago

यूपी में सहपाठी के ब्लैकमेल से परेशान लड़की ने की आत्महत्या

राजनीति21 mins ago

सुरक्षा बलों का ढृढ़ संकल्प लोगों को सुरक्षित महसूस कराता है : अमित शाह

राष्ट्रीय25 mins ago

केंद्र सरकार ने खाद्य तेल जमाखोरों के खिलाफ कार्रवाई पर रिपोर्ट मांगी

अपराध41 mins ago

आर्यन खान की जमानत के लिए बॉम्बे हाईकोर्ट में पैरवी करेंगे पूर्व एजी मुकुल रोहतगी

अपराध48 mins ago

यूपी की राजधानी लखनऊ में किरण गोसावी के सरेंडर को लेकर ड्रामा

सामान्य56 mins ago

मुंबई की लोकल ट्रेनों की 100 फीसदी सेवाएं 28 अक्टूबर से होगी शुरू

अपराध1 hour ago

आर्यन मामले के जांच अधिकारी वानखेड़े पहुंचे दिल्ली, तलब किए जाने से किया इनकार

अपराध16 hours ago

केरल के युवा दंपति को मिली राहत, कोर्ट ने उनके बच्चे को ‘गोद लेने’ पर लगाई रोक

अपराध4 weeks ago

दूधवाला बिल्डर का फर्जीवाड़ा, अपने रिश्तेदारों को बताया ओल्ड टेनेंट?

अपराध3 weeks ago

कर्नाटक हाईकोर्ट ने 16 मस्जिदों में लाउडस्पीकरों के खिलाफ याचिका पर सरकार से आपत्ति दर्ज करने का दिया निर्देश

अपराध3 weeks ago

ड्रग्स केस में सुनवाई के बीच आर्यन खान समेत अन्य आरोपियों को भेजा गया ऑर्थर रोड़ जेल

राष्ट्रीय3 weeks ago

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी जारी

राजनीति4 days ago

हज 2022 को लेकर नवम्बर महीने में होगा आवेदनों की तारीख का एलान

lalnaug
सामान्य4 days ago

मुंबई की अविघ्न पार्क इमारत में भीषण आग

महाराष्ट्र1 week ago

गोवा में रिजॉर्ट, 4 करोड़ के गहने, दिल्ली में फ्लैट… अजित पवार की बहनों के पास मिली बेहिसाब संपत्ति

Covid-19-Rapid
सामान्य3 weeks ago

भारत में कोरोना के 18,833 नए मामले, 278 लोगों की मौत

अपराध2 weeks ago

एआईएमआईएम कार्यकर्ता व उसके 2 बेटों पर दुष्कर्म का आरोप, पुलिस से रिपोर्ट तलब

बॉलीवुड2 weeks ago

मनी लॉन्ड्रिंग केस में अभिनेत्री नूरा फातेही और जैकलिन फर्नांडिस को ED ने किया तलब

अपराध2 years ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध2 years ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

बॉलीवुड3 years ago

शाहरूख खान की आने वाली फिल्म जीरो का ट्रेलर इस दिन होगा रिलीज

बॉलीवुड3 years ago

पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन का कभी देखा है इतना हॉट लुक

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की के खिलाफ आरपीएफ ने दर्ज किया केस

बॉलीवुड3 years ago

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर अभिनेता नाना पाटेकर जल्द ही देंगे जवाब

मनोरंजन3 years ago

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरूख खान को इस वजह से किया सैलूट

बॉलीवुड3 years ago

जानिए आखिर क्यों गोल्डन गर्ल आशा पारेख ने नहीं की शादी

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की की पहचान आई सामने, जानिए कौन है वो लड़की

अपराध3 years ago

देखिए मुंबई में हुए एक दर्दनांक हादसे का वीडियो

रुझान