Connect with us
Friday,12-August-2022
ताज़ा खबर

महाराष्ट्र

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने शिवलिंग मिलने का किया दावा

Published

on

ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में सर्वे का काम पूरा हो गया है। इसमें शामिल सभी सदस्य परिसर से वापस लौट गए। इस दौरान मीडिया से बातचीत के दौरान वादी पक्ष के सोहनलाल आर्य ने बताया कि ‘नंदी जिसका इंतजार कर रहे थे वह बाबा मिल गए’। इतिहास कालखंड में जो भी लिखा था वह मिल गया है। जिसकी जनता को प्रतीक्षा थी आखिरकार वह बाबा अब मिल गए हैं। वहीं मुस्लिम पक्ष ने कहीं कुछ भी मिलने के दावों से इनकार किया है। पूछे जाने पर सोहनलाल ने कहा कि ये मत पूछिए। उन्होंने संतकबीर का दोहा- ‘जिन खोजा तिन पाइया, गहरे पानी पैठ, मैं बपुरा बूडन डरा, रहा किनारे बैठ’ सुना दिया। उन्होंने बताया कि तालाब में काले रंग का पत्थर मिला है। हालांकि प्रशासन ने कहा है कि इस मामले में सिर्फ अधिकारिक बयानों पर ही ध्यान दें। अन्य किसी भी बयान पर भरोसा न करें। अब खबर ये भी है कि शिवलिंग मिलने वाली जगह को सील कर दिया गया है और सुरक्षा कड़ी कर दी गई है…मंगलवार को इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट भी मुस्लिम पक्ष की याचिका पर सुनवाई करेगा…

बताते चलें कि पहले दिन की कार्यवाही के बाद ही सोहनलाल आर्य ने विक्ट्री साइन बनाकर हिंदू मंदिर होने के साक्ष्यों को लेकर आशा जताई थी। अब आखिरी दिन सोमवार को हुई कार्यवाही के बाद उन्होंने नंदी का मुंह ज्ञानवापी मस्जिद की ओर होने की वजहों को लेकर बाबा विश्वनाथ के मिल जाने की जानकारी दी। हालांकि, इससे अधिक उन्होंने मामला अदालत में होने की वजह से जानकारी देने से मना कर दिया।

हिंदू पक्ष ने कहा है कि इसके संरक्षण के किए वे कोर्ट जाएंगे। इसके पहले सर्वे की टीम जब ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर जा रही थी तब टीम के एक सदस्य को रोक लिया गया। बताया जा रहा है कि सूचनाएं लीक करने के आरोप में तीसरे दिन उन्हें सर्वे में शामिल नहीं होने दिया गया। दिन का सर्वे पूरा होने पर वाराणसी जिला और पुलिस प्रशासन ने सभी पक्षों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि कोर्ट के आदेश पर तीन दिन का यह सर्वे कराया गया। इसमें सभी पक्षों ने सहयोग दिया। प्रशासन ने लोगों से इस मामले में सिर्फ अधिकारिक बयानों पर ही भरोसा करने की अपील की है।

वाराणसी के जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने कहा कि सर्वे को लेकर अगर किसी ने कोई बात कही है या किसी बात का दावा किया है तो यह उनकी व्यक्तिगत राय है। ज्ञानवापी श्रृंगार गौरी मामले में कोर्ट कमिश्नर द्वारा रिपोर्ट पेश करने के बाद कोई भी बात अदालत के द्वारा ही बताया जाएगा। किसी की बात पर कोई ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है।

ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर कोर्ट ने 12 मई को अपना फैसला सुनाया था। इस दिन कोर्ट ने ज्ञानवापी मस्जिद सर्वे के लिए नियुक्त किए गए एडवोकेट कमिश्नर अजय कुमार मिश्रा को हटाए जाने से इनकार कर दिया था। कोर्ट ने अजय मिश्रा के साथ विशाल कुमार सिंह को कोर्ट कमिश्नर और अजय सिंह को असिस्टेंट कमिश्नर बनाया था। कोर्ट ने सर्वे की कार्रवाई पूरी करके 17 मई तक रिपोर्ट दाखिल करने को कहा था।

Continue Reading

अपराध

अमृता फडणवीस पर अश्लील कमेंट करने वाला युवक गिरफ्तार, पुणे पुलिस ने की कार्रवाई

Published

on

Fadnavis-couple

मुंबई :-महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस पर अश्लील कमेंट करने वाले एक युवक को पुणे पुलिस ने गिरफ्तार किया है. अरेस्ट किए गए युवक का नाम अमित वायकर है. इस पुणे की आलेफाटा पुलिस ने अरेस्ट किया है. बीजेपी नेता आशाताई बुचके ने अमित वायकर नाम के इस युवक के खिलाफ आलेफाटा पुलिस स्टेशन पर शिकायत दर्ज करवाई थी. अमित वायकर ने फेसबुक पोस्ट देखते हुए एक पोस्ट के कमेंट बॉक्स पर देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस परअश्लील फब्तियां कसी थी.

इस बारे में विस्तार से बताएं तो अमित वायकर मोबाइल पर फेसबुक से जुड़े पोस्ट देख रहा था. इसी दौरान ठाणे की शिवसेना हमारे साथ, यह हेडिंग लिखी हुई एक खबर पर उसकी नजरें टिक गईं. खबर पढ़ कर उसने कमेंट बॉक्स पर उप मुख्यमंत्री पर हमले करते हुए एक अश्लील कमेंट कर दिया. यह कमेंट उनकी पत्नी अमृता फडणवीस को लेकर था और इस कमेंट की भाषा बेहद अश्लील किस्म की थी.  पुणे के कावले मला, चालकवाड़ी का रहने वाला अमित वायकर का यह कमेंट सोशल मीडिया में वायरल हो गया.

महाराष्ट्र ही नहीं राष्ट्रीय राजनीति में बीजेपी के एक अहम नेता के तौर पर पहचाने जाने वाले देवेंद्र फडणवीस की पत्नी के बारे में अश्लील कमेंट किए जाने से खलबली मच गई. इसके बाद जुन्नर की बीजेपी नेता आशाताई बुचके ने इस पर ऐक्शन लेते हुए सीधे पुणे के आलेफाटा पुलिस से संबंधित युवक के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई. पुलिस भी तुरंत हरकत में आई और अमित वायकर को हिरासत में लिया और थोड़ी देर तक पूछताछ के बाद उसे अरेस्ट कर लिया.

बता दें किदेवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस पेशे से एक बैंकर हैं और पैशन से सिंगर और सोशल वर्कर हैं. वे अक्सर सोशल मीडिया में किए गए शिवसेना पर अपनी तीखी टिप्पणियों से भी पहचानी जाती हैं. वे अमिताभ बच्चन समेत कई सेलिब्रिटीज के साथ अपना म्यूजिक अल्बम जारी कर चुकी हैं.अभी दो दिनों पहले फ्रेंडशिप डे के दिन उन्होंने शिवसेना पर कटाक्ष करते हुए एक फोटो पोस्ट किया था. इस फोटो में वे देवेंद्र फडणवीस और सीएम शिंदे के साथ दिखाई दे रही थीं. इसमें उन्होंने कैप्शन में लिखा- ‘ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे’. इसके बाद अमृता फडणवीस ने लिखा था- ‘महाराष्ट्र के दो अनमोल रत्न के साथ मैं’.
मुहम्मद युसूफ राणा – ९००४२००९८३ 

Continue Reading

महाराष्ट्र

सर्वे में शिंदे- बीजेपी सरकार को झटका, अभी चुनाव हुए तो 48 में से 30 सीटें जीत सकती है महाविकास अघाड़ी

Published

on

महाराष्ट्र की शिंदे-फडणवीस सरकार के लिए एक चिंताजनक खबर है। एक सर्वे के मुताबिक अगर मौजूदा समय में महाराष्ट्र में लोकसभा के चुनाव हुए तो 48 में से 30 सीटों पर महाविकास अघाड़ी यानी शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी को एकसाथ चुनाव लड़ने पर जीत मिल सकती है। वहीं एनडीए यानी शिंदे- फडणवीस गुट को 18 सीटों से संतोष करना पड़ सकता है। यह सर्वे इंडिया टीवी और सी वोटर्स ने किया है। यदि इस सर्वे पर यकीन करें तो आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में एनडीए की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही हैं। बता दें कि शिवसेना से बगावत कर शिंदे गुट ने बीजेपी के साथ मिलकर बीते 30 जून को महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। फिलहाल एकनाथ शिंदे के पास 50 विधायकों का समर्थन है। जिसमें निर्दलीय और शिवसेना के बागी विधायक शामिल हैं। फिलहाल देवेंद्र फडणवीस को उपमुख्यमंत्री पद से संतोष करना पड़ा है। जबकि वो पहले कई बार दोहरा चुके थे कि वह जल्द ही मुख्यमंत्री के रूप में वापस आएंगे।

सर्वे के मुताबिक राज्य की शिंदे फडणवीस सरकार लोगों को रास नहीं आई है। आपको बता दें कि साल 2019 में बीजेपी और शिवसेना ने एक साथ मिलकर लोकसभा का चुनाव लड़ा था। तब उन्हें महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों में से 42 सीटों पर जीत मिली थी। हालांकि मौजूदा समय बीजेपी और शिंदे गुट के लिए मुफीद नजर नहीं आ रहा है। यदि इस समय चुनाव होते हैं तो उन्हें 48 में से सिर्फ 18 सीटों पर जीत मिलने के आसार नजर आ रहे हैं। जबकि 30 सीटें हैं सीधे महाविकास अघाड़ी के खाते में जाती हुई नजर आ रही हैं। महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन के बाद शिंदे गुट और बीजेपी के सांसदों की संख्या 36 तक पहुंच गई है। जबकि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना में अब सिर्फ 6 सांसद बचे हुए हैं। लेकिन सर्वे की मानें तो मौजूदा समय में अगर चुनाव हुआ तो यह गणित पलट सकता है। साथ ही महाविकास अघाड़ी महाराष्ट्र में भारी जीत दर्ज कर सकती है। मौजूदा समय में चुनाव होने का यह नतीजा भी होगा कि बीजेपी की सीटों में सीधे 50 फ़ीसदी तक की गिरावट हो सकती है। जो बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका साबित होगा।

फिलहाल उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे गुट के बीच में सुप्रीम कोर्ट और चुनाव आयोग में लड़ाई चल रही है। यदि सुप्रीम कोर्ट एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों को अयोग्य नहीं ठहराता है तो उद्धव ठाकरे के हाथ से शिवसेना निकल सकती है। जिसका सीधा असर आने वाले लोकसभा चुनाव के नतीजों पर भी पड़ेगा। ऐसे में महाराष्ट्र की सियासत में नए समीकरण भी बन सकते हैं।

Continue Reading

महाराष्ट्र

नाराज विधायक ने सीएम से की श‍िकायत, शिंदे गुट में बगावत के सुर!

Published

on

Shinde-g

मंत्रिमंडल विस्तार करते ही शिंदे गुट और शिंदे के साथ सरकार में आए निर्दलीय विधायक नाराज हो गए हैं। धीरे-धीरे खुलकर शिंदे-फडणवीस सरकार के खिलाफ बोलने लगे हैं। अमरावती अचलपुर सीट से प्रहार के विधायक बच्चू कडू बेहद ही खफा हैं। बुधवार को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से मिले। बाद में कडू ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किए जाने की अपनी नाराजगी से मुख्यमंत्री को अवगत करा दिया हूं। कडू ने कहा कि राज्य में फिलहाल बागियों का राज है। बगावत करने वालों को पहले मंत्री पद मिलता है। ज्यादा धोखा देने वाला बड़ा नेता बनता है। बाद में बच्चू ने सफाई दी कि मैंने धोखे वाली बात बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के संदर्भ में कही थी।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के शपथ लेने के 40 दिनों बाद किसी तरह से मंत्रिमंडल का विस्तार किया। शिंदे और फडणवीस के 9-9 विधायकों ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली। मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को लेकर कुल 20 कैबिनेट मंत्री है, परंतु इनके विभागों का बंटवारा बुधवार की देर रात तक नहीं हुआ। उद्धव ठाकरे सरकार के साथ बगावत करने वाले शिंदे गुट और निर्दलीय विधायक मंत्रिमंडल विस्तार के बाद नाराज हैं। कई लोगों ने सपने संजा रखे थे कि उन्हें भी मंत्रिमंडल में शामिल किया जाएगा। लेकिन उनका सपना टूट गया है।

कडू ने कहा कि मुख्यमंत्री शिंदे ने हिंदुत्व और सेवा के लिए बगावत की है। बगावत में ईमानदारी होनी चाहिए। कडू ने कहा कि मंत्री पद न मिलने को लेकर थोड़ी नाराजगी है, लेकिन इतनी भी नाराजगी नहीं है कि शिंदे गुट को छोड़ दूं। पिछली फडणवीस सरकार में मैं राज्य मंत्री था, इसलिए मुझे विश्वास था कि पहले विस्तार में मुझे मंत्री बनाया जाएगा, परंतु शिवसेना से बगावत करके शिंदे गुट में जो विधायक देरी से शामिल हुए हैं, उन्हें पहले मंत्रिमंडल विस्तार में कैबिनेट मंत्री बना दिया गया है। जो विधायक शिंदे गुट में सबसे पहले शामिल हुए थे, उन्हें शायद दूसरे मंत्रिमंडल विस्तार में मौका दिया जाएगा। कडू ने कहा कि मुझे मुख्यमंत्री ने भरोसा दिया है कि वह मंत्री बनाने का वादा पूरा करेंगे। मुख्यमंत्री ने मुझे बताया कि राज्य मंत्रिमंडल का दूसरा विस्तार सितंबर महीने में होगा। मुझे मुख्यमंत्री पर भरोसा है।

Continue Reading
Advertisement
Fadnavis-couple
अपराध9 hours ago

अमृता फडणवीस पर अश्लील कमेंट करने वाला युवक गिरफ्तार, पुणे पुलिस ने की कार्रवाई

अपराध12 hours ago

ठग ने लगाया 25 लाख का चूना, 63 लाख वाली ऑडी 34 लाख रुपए में खरीद रहे थे डॉक्‍टर साहब

महाराष्ट्र13 hours ago

सर्वे में शिंदे- बीजेपी सरकार को झटका, अभी चुनाव हुए तो 48 में से 30 सीटें जीत सकती है महाविकास अघाड़ी

Tejaswi
अनन्य14 hours ago

सोनिया से मिलेंगे बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव

सामान्य16 hours ago

भारत में कोरोना के एक दिन में 16,561 नए मामले, 49 मौतें

Shinde-g
महाराष्ट्र1 day ago

नाराज विधायक ने सीएम से की श‍िकायत, शिंदे गुट में बगावत के सुर!

अपराध1 day ago

विमान के अंदर धूम्रपान करने वाले वीडियो पर स्पाइसजेट ने कहा- ‘कार्रवाई शुरू’

सामान्य2 days ago

राकेश टिकैत ने एक और किसान आंदोलन की चेतावनी दी

raj-loadha
महाराष्ट्र2 days ago

मंत्री बनते ही राज ठाकरे से मिलने पहुंचे लोढा, अब बीएमसी चुनाव पर बीजेपी की नजर

सामान्य2 days ago

भारत में एक दिन में कोरोना के 16,299 नए मामले, 53 मौतें

SP
राजनीति4 weeks ago

राष्ट्रपति चुनाव : उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी विधायकों ने किया क्रॉस वोट

uddhav
महाराष्ट्र3 weeks ago

उद्धव खेमा सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, शिंदे खेमे की अर्जी पर चुनाव आयोग की कार्यवाही पर रोक की मांग

firing
अपराध4 weeks ago

दिल्ली में सिक्किम पुलिस के सिपाही ने सुपीरियर को गोली मारी, दो साथियों की मौत

अपराध3 weeks ago

100 करोड़ रुपये में राज्यसभा सीट का झांसा देने के आरोप में 4 गिरफ्तार, अदालत ने दी जमानत

Rishab-Pant
खेल4 weeks ago

वसीम जाफर ने की ऋषभ पंत की तारीफ

CM-Dhami
राजनीति3 weeks ago

सीएम धामी ने नितिन गडकरी से की मुलाकात, विकास कार्यों पर हुई चर्चा

Tarun-Chugh
राजनीति3 weeks ago

श्रीनगर को 2 परिवारों ने बना दिया था आतंकवाद की राजधानी: तरुण चुघ

Sanjay Raut
अपराध2 weeks ago

4 अगस्‍त तक ED की कस्‍टडी में रहेंगे संजय राउत

अपराध4 weeks ago

मुंबई से सटे मीरा रोड में बीजेपी नेता पर धारदार हथियार से हमला

Neeraj
खेल4 weeks ago

अंडर आर्मर ने गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा को बनाया ब्रांड एंबेसडर

रुझान