Connect with us
Thursday,27-January-2022

अपराध

पूर्व आईएएफ सार्जेट अपनी पहली पत्नी और 2 बेटियों की हत्या करने के मामले में 11 साल बाद हुआ गिरफ्तार

Published

on

दूसरी महिला से शादी करने के लिए अपनी पत्नी और दो बेटियों की हत्या करने वाले भारतीय वायु सेना के सार्जेट को 11 साल बाद कर्नाटक पुलिस ने असम से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। हरियाणा के धरम सिंह यादव (54) को असम के एक शहर नेल्ली में गिरफ्तार किया गया, जहां वह अपनी दूसरी पत्नी और दो बच्चों के साथ रहता था। पुलिस को उसके बारे में तब पता चला जब उन्हें पता चला कि वह अभी भी भारतीय वायुसेना से पेंशन प्राप्त कर रहा है।

यादव 1987 में भारतीय वायुसेना में शामिल हुआ था और 1997 में सेवानिवृत हुआ था। उनकी शादी नई दिल्ली के अनु यादव से हुई थी। उनकी 14 साल और आठ साल की दो बेटियां थीं। सेवानिवृत्ति के बाद यादव ने बेंगलुरु के विद्यारण्यपुरम में एक घर खरीदा और अपने परिवार के साथ रहने लगे। वह एक निजी कंपनी के क्रय विभाग में अधिकारी के पद पर कार्यरत था।

यादव ने अविवाहित होने का दावा करते हुए दुल्हन की तलाश में मैरिज पोर्टल्स पर अपनी जानकारी अपलोड की थी। असम की एक महिला ने उसके प्रस्ताव में दिलचस्पी दिखाई थी और उससे शादी करने के लिए तैयार हो गई थी।

दूसरी महिला से शादी करने की तैयारी करते हुए यादव ने अपनी पत्नी और दो बेटियों को छुड़ाने की योजना बनाई। 2008 में उसने अपनी पत्नी अनु यादव और बेटियों पर लकड़ी के लट्ठे से हमला किया और उन सभी को मार डाला।

पुलिस जांच से ध्यान भटकाने के लिए उसने पत्नी अनु यादव का गला काट दिया और सोने के जेवर भी छीन लिए। बाद में, उसने पुलिस के सामने एक नाटक किया कि लुटेरों ने उसकी पत्नी और बेटियों को सोने के गहनों के लिए मार डाला है।

पुलिस ने परिस्थितिजन्य साक्ष्य जुटाकर यादव पर शक किया और उसे अपनी हिरासत में ले लिया। पूछताछ के दौरान उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

यादव को जेल भेज दिया गया है। 14 महीने जेल में बिताने के बाद उसने वहां से भागने की साजिश रची।

पुलिस ने कहा कि यादव ने किडनी की समस्या होने का दावा किया और उसे अस्पताल ले जाया गया। वह किसी तरह मिर्च पाउडर अपने साथ ले गया। जेल अधिकारी उसे परामर्श के लिए यूरोलॉजी विभाग ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसके साथ आए पुलिसकर्मियों को उसे पानी पिलाने को कहा। अस्पताल के अंदर जाते समय यादव ने पुलिसकर्मियों पर मिर्च पाउडर फेंका और फरार हो गया।

यादव फरार होने के बाद वापस अपने गांव हरियाणा चला गया। चूंकि उसकी पहली पत्नी अनु यादव के परिवार और रिश्तेदारों ने उसका पीछा किया, इसलिए वह भागकर असम चला गया। उसने असमिया महिला से शादी कर ली, और अपना जीवन फिर से शुरू कर दिया।

पुलिस टीम हरियाणा गई और स्थानीय लोगों से जानकारी हासिल करने में कामयाब रही और पाया कि वह असम में रह रहा था। असम पुलिस के सहयोग से बेंगलुरु की टीम यादव को पकड़ने में कामयाब रही।

Continue Reading

अपराध

प्रयागराज में छात्रों से झड़प के बाद 2 गिरफ्तार, 6 पुलिसकर्मी निलंबित

Published

on

यहां के स्थानीय रेलवे स्टेशन पर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों द्वारा कथित दंगा करने और रेल ट्रैक को अवरुद्ध करने के संबंध में दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है और लगभग 1,000 अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हजारों छात्रों ने एक यात्री ट्रेन को रोकने की कोशिश की थी। हालांकि, सतर्क जीआरपी और आरपीएफ कर्मियों ने ट्रेन को रोकने के उनके प्रयास को विफल कर दिया।

मंगलवार को हुई इस घटना के दौरान अनावश्यक बल प्रयोग करने के आरोप में छह पुलिसकर्मियों को भी तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

छात्रों पर लाठीचार्ज की न्यायिक जांच की मांग को लेकर पांच वकीलों ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में एक पत्र याचिका दायर की है।

इस बीच, सोशल मीडिया पर कथित रूप से भड़काऊ टिप्पणी करने वाले एक अन्य आरोपी की तलाश की जा रही है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने संवाददाताओं से कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि आरोपी ने अशांति पैदा करने के लिए ‘कुछ राजनीतिक दलों से पैसे’ लिए थे। इस एंगल से घटना की जांच के लिए पुलिस टीम का गठन किया गया है।

घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया था, जिसके बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रेलवे भर्ती परीक्षा में कथित अनियमितताओं के विरोध में वहां जमा हुए नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के खिलाफ बल प्रयोग की निंदा की है।

पुलिस ने कहा कि मामले के सिलसिले में गिरफ्तार किए गए दो लोगों की पहचान प्रदीप यादव और मुकेश यादव के रूप में हुई है, जबकि एक अन्य संदिग्ध राजेश सचिन की तलाश जारी है।

राजेश सचिन ने सोशल मीडिया पर भड़काऊ टिप्पणी की थी।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अजय कुमार ने कहा कि घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया था, जिसमें कुछ पुलिसकर्मियों को अनावश्यक बल प्रयोग करते देखा गया था।

इन पुलिसकर्मियों की पहचान सब इंस्पेक्टर राकेश भारती, शैलेंद्र यादव, कपिल कुमार चहल और कांस्टेबल मोहम्मद आरिफ, अच्छे लाल और दुर्वेश कुमार के रूप में हुई है।

उन्होंने कहा कि उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है और उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जा रही है।

एसएसपी ने कहा कि पुलिस और छात्रों के बीच कोई झगड़ा नहीं है और छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।

उन्होंने कहा कि उन्होंने 1,000 अज्ञात लोगों के खिलाफ 13 गंभीर धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

इस बीच, प्रयागराज से कांग्रेस उम्मीदवार अनुग्रह नारायण सिंह ने छात्रों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई की निंदा की।

सिंह ने कहा कि बेरोजगार युवा अपने अधिकारों की मांग कर रहे हैं और अपने अधिकारों की मांग करना अपराध नहीं है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि मार्च 2019 से अब तक लगभग 1.24 लाख छात्रों ने ग्रुप डी के तहत रेलवे की नौकरियों के लिए आवेदन किया था। सरकार ने भर्ती को तीन साल के लिए स्थगित कर दिया, ऐसे में उनका गुस्सा जायज है।

बड़ी संख्या में छात्र रेलवे ट्रैक पर जमा हो गए थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें खदेड़ दिया। इस दौरान कुछ छात्रों ने कथित तौर पर पुलिसकर्मियों पर पथराव कर दिया।

Continue Reading

अपराध

झारखंड के गिरिडीह के पास नक्सलियों ने रेल पटरियां उड़ाई

Published

on

नक्सलियों ने झारखंड के गिरिडीह के पास गया-धनबाद रेलखंड पर विस्फोट कर अप-डाउन रेलवे ट्रैक को उड़ा दिया। बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात लगभग एक बजे के आसपास अंजाम दी गयी । इस घटना के कारण गया- धनबाद-हावड़ा रेल खंड पर लगभग 8 घंटे तक ट्रेनों का परिचालन ठप रहा । रेलवे की ओर से क्षतिग्रस्त पटरियों को दुरुस्त किए जाने के बाद सुबह 8 बजे से ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया गया है लेकिन यातायात पूरी तरह सामान्य होने में चार-पांच घंटे का वक्त लग सकता है। रेलवे सुरक्षा बल के एक अधिकारी ने बताया कि नक्सलियों ने गिरिडीह के सरिया नामक जगह से थोड़ा आगे चिचाकी रेलवे स्टेशन के पास आईईडी लगाकर अप और डाउन दोनों ट्रैक को उड़ा दिया। चिचाकी स्टेशन के पास ड्यूटी पर तैनात गैंगमैन ने इसकी सूचना स्टेशन मैनेजर को दी और उसके बाद इस रेलखंड पर चल रही ट्रेनें जहां की तहां रोक दी गईं। बताया गया कि इस विस्फोट से थोड़ी देर पहले पारसनाथ स्टेशन से गंगा-दामोदर एक्सप्रेस रवाना हुई थी। इस ट्रेन को चौधरीबांध स्टेशन पर रोक दिया गया, अन्यथा बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। गया से इंटरसिटी एक्सप्रेस भी इसी समय खुलने वाली थी। उसे से भी गया रेलखंड पर ही रोका। हटिया- इस्लामपुर एक्सप्रेस और लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस को भी पारसनाथ स्टेशन पर ही रोक दिया गया।

बता दें कि नक्सलियों ने अपने लीडर प्रशांत बोस और उनकी पत्नी शीला मरांडी की गिरफ्तारी के खिलाफ 27 जनवरी को झारखंड और बिहार में बंद का आह्वान किया है। इसके पहले 21 से 26 जनवरी तक प्रतिरोध सप्ताह के दौरान भी नक्सलियों ने गिरिडीह और हजारीबाग में तीन मोबाइल टावर और एक पुल को विस्फोट के जरिए उड़ा दिया था।

Continue Reading

अपराध

रेलवे ने किया परीक्षाओं को रद्द किया, जांच कमेटी गठित की

Published

on

रेल मंत्रालय ने रेलवे की दोनों परीक्षा (गैर-तकनीकी लोकप्रिय श्रेणियों और रेलवे भर्ती बोर्ड की लेवल-1 ) पर फिलहाल रोक लगा दी है। रेल मंत्रालय ने एक कमेटी गठित की है जो परीक्षा में पास हुए स्टूडेंट और फेल किए गए स्टूडेंट की बातों को सुनेंगे। कमेटी इसकी रिपोर्ट रेल मंत्रालय को सौपेंगी। उसके बाद रेल मंत्रालय आगे का निर्णय लेगा। छात्रों के विरोध के मद्देनजर फिलहाल रेलवे की परीक्षा पर रेल मंत्रालय ने रोक लगा दी है।

रेलवे प्रवक्ता ने बुधवार को जानकारी दी कि रेलवे ने एक समिति का गठन किया गया है, जो विभिन्न रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) की ओर से आयोजित परीक्षाओं में सफल और असफल होने वाले परीक्षार्थियों की शिकायतों की जांच करेगी और दोनों पक्षों की शिकायतें और चिंताएं सुनने के बाद समिति रेल मंत्रालय को एक रिपोर्ट सौंपेगी। इस कमेटी को अपनी रिपोर्ट सौंपने के लिए 3 सप्ताह का समय दिया है। जांच के बाद कमेटी 4 मार्च तक अपनी सिफारिश प्रस्तुत करेगी।

दरअलस रेलवे भर्ती बोर्ड की गैर तकनीकी लोकप्रिय श्रेणियों की परीक्षा 2021 परिणाम 14-15 जनवरी को जारी किये गए थे। इन परीक्षाओं में 1 करोड़ 40 लाख उम्मीदवार शामिल हुए थे और नतीजे आने के बाद से ही छात्रों के बीच असंतोष का मुद्दा छाया हुआ है। इसके विरोध में छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं। ये विरोध बिहार और देश के कई अन्य हिस्सों में छात्रों द्वारा किया जा रहा है। मंगलवार को प्रदर्शनकारी छात्रों ने कई स्थानों पर रेल पटरियों पर धरना दिया, कई घण्टे तक रेलों को बाधित किया। हालांकि इस बीच रेल मंत्रालय ने मंगलवार को एक बयान जारी कर प्रदर्शनकारी उम्मीदवारों को रेलवे की नौकरी पाने से जीवन भर के लिए बैन करने की चेतावनी भी दी।

रेलवे की ओर से जारी इस नोटिस में आगे उल्लेख किया गया है कि रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) सत्यनिष्ठा के उच्चतम मानकों को बनाए रखते हुए निष्पक्ष और पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया संचालित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। रेलवे नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे गुमराह न हों या ऐसे तत्वों के प्रभाव में न आएं जो अपने स्वार्थ को पूरा करने के लिए उनका इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहे हैं।

Continue Reading
Advertisement
राजनीति2 mins ago

यूपी : भाजपा के दिग्गज शाह, राजनाथ, योगी आज मैदान में, घर घर में देंगे दस्तक

अपराध6 mins ago

प्रयागराज में छात्रों से झड़प के बाद 2 गिरफ्तार, 6 पुलिसकर्मी निलंबित

अपराध9 mins ago

झारखंड के गिरिडीह के पास नक्सलियों ने रेल पटरियां उड़ाई

बॉलीवुड13 mins ago

अयोध्या में लता मंगेशकर के लिए की गई प्रार्थना

बॉलीवुड16 mins ago

एक्शन एंटरटेनर प्रभु देवा की 58वीं फिल्म का नाम है ‘रेकला’

बॉलीवुड19 mins ago

विवेक ओबेरॉय ने ‘वर्सेज ऑफ वॉर’ में एक कविता को अपनी आवाज दी

अंतरराष्ट्रीय24 mins ago

कुलदीप यादव की एक दिवसीय क्रिकेट में हुई वापसी, रवि विश्नोई को पहली बार टीम में शामिल

अंतरराष्ट्रीय30 mins ago

वेस्टइंडीज सीरीज के लिए भारतीय क्रिकेट टीम की घोषणा, रोहित शर्मा होंगे कप्तान

अपराध21 hours ago

रेलवे ने किया परीक्षाओं को रद्द किया, जांच कमेटी गठित की

अंतरराष्ट्रीय21 hours ago

एप्पल ने एयरटैग्स के लिए नई ‘व्यक्तिगत सुरक्षा उपयोगकर्ता गाइड’ लॉन्च की

uddhav
महाराष्ट्र4 weeks ago

बीएमसी चुनाव के मद्देनजर ठाकरे सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब 500 स्क्वायर फुट वाले घरों का प्रॉपर्टी टैक्स होगा माफ

School-Child
राजनीति3 weeks ago

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर मुंबई में 31 जनवरी तक स्कूल फिर से बंद, सिर्फ 10वीं और 12वीं की चलेगी कक्षाएं

महाराष्ट्र3 weeks ago

पांच राज्यों में चुनाव तारीखों की घोषणा, यूपी में सात चरणों में मतदान, 10 मार्च को वोटों की गिनती

सामान्य4 weeks ago

मुंबई में प्रतिबंधों के बीच कोरोना विस्फोट, एक दिन में आए 2510 नये केस

महाराष्ट्र2 days ago

मुंबई प्रेस की खबर का असर, नगरसेवक से विधायक बने रईस कासिम शेख ने उर्दू भवन के समर्थन में आदित्य ठाकरे को लिखा खत

महाराष्ट्र3 weeks ago

सोमवार से लागू होगी सख्त गाइडलाइन्स, मुंबई में कोरोना के नये मामले लगातार तीसरे दिन भी 20 हजार के पार

महाराष्ट्र4 weeks ago

महाराष्ट्र में तीसरी लहर से 80,000 मौतों की चेतावनी

अपराध3 weeks ago

एनसीबी में खत्म हुआ समीर वानखेड़े का कार्यकाल, डीजी-डीआरआई को करेंगे रिपोर्ट

राजनीति2 weeks ago

यूपी विधानसभा 2022: AIMIM ने जारी की पहली सूची

अपराध3 weeks ago

जावेद हबीब मामला: ब्यूटीशियन पूजा ने पुलिस में दर्ज कराया मुकदमा

अपराध2 years ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध2 years ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

बॉलीवुड3 years ago

शाहरूख खान की आने वाली फिल्म जीरो का ट्रेलर इस दिन होगा रिलीज

बॉलीवुड3 years ago

पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन का कभी देखा है इतना हॉट लुक

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की के खिलाफ आरपीएफ ने दर्ज किया केस

बॉलीवुड3 years ago

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर अभिनेता नाना पाटेकर जल्द ही देंगे जवाब

मनोरंजन3 years ago

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरूख खान को इस वजह से किया सैलूट

बॉलीवुड3 years ago

जानिए आखिर क्यों गोल्डन गर्ल आशा पारेख ने नहीं की शादी

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की की पहचान आई सामने, जानिए कौन है वो लड़की

अपराध3 years ago

देखिए मुंबई में हुए एक दर्दनांक हादसे का वीडियो

रुझान