Connect with us
Sunday,16-January-2022

राजनीति

बंगाल बच्चों में अज्ञात बुखार के प्रकोप से लड़ने के लिए हो रहा तैयार

Published

on

 पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य में, खासकर उत्तर बंगाल में बच्चों के बुखार के बढ़ते मामलों पर चर्चा करने के लिए मेडिकल कॉलेजों के अधीक्षकों और राज्य के स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है। राज्य स्वास्थ्य विभाग के एक बयान के अनुसार, अब तक उत्तर बंगाल के विभिन्न सरकारी अस्पतालों में 1,195 बच्चों को खांसी और सांस की समस्या के साथ तेज बुखार के साथ भर्ती कराया गया है। राज्य सरकार ने उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज और जलपाईगुड़ी जिला अस्पताल में मामलों की जांच के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया था, जिसने गुरुवार को राज्य के स्वास्थ्य विभाग को एक रिपोर्ट सौंपी।

ममता ने स्वास्थ्य अधिकारियों से मुलाकात के बाद कहा, “जिन बच्चों की मौत हुई, उन्हें कुछ और बीमारियां थीं। राज्य सरकार हर संभव उपाय कर रही है।”

प्रयोगशाला निदान ने विभिन्न प्रकार के बुखारों की पुष्टि की, जो इस मौसम के दौरान सामान्य तौर पर होते हैं, जिनमें इन्फ्लूएंजा और आरएस वायरस के साथ-साथ डेंगू और अन्य सांस की बीमारी के कुछ मामले शामिल हैं।

विशेषज्ञ समिति द्वारा विस्तृत जांच किए जाने पर अब तक कोई विशेष प्रकोप नहीं पाया गया है। प्रवेश के दौरान सभी मामलों का परीक्षण किया गया था और अब तक केवल एक मामला (एक 17 दिन का बच्चा) कोविड पॉजिटिव का पाया गया है। अब तक दो बच्चों की मौत हो चुकी है।

हालांकि, राज्य सरकार स्थिति पर कड़ी नजर रखे हुए है और विशेषज्ञ टीम स्थिति की समीक्षा करने के लिए शुक्रवार को फिर से उत्तर बंगाल के जिलों का दौरा करेगी।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज और स्कूल ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसिन में श्वसन वायरस के लिए उच्च स्तर की नैदानिक सुविधाएं बनाई जा रही हैं। विशेषज्ञ समिति एक नई मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) विकसित कर रही है और बाल रोग विशेषज्ञों को इस बुखार प्रकरण के निदान और उपचार के लिए उन्मुख किया जा रहा है। एनआईसीयू और पीआईसीयू जैसे बाल चिकित्सा मामलों के लिए महत्वपूर्ण देखभाल इकाइयां पहले ही विकसित की जा चुकी हैं और अधिक गंभीर मामलों के इलाज के लिए उपयोग की जा रही हैं। सौभाग्य से, आरएस वायरस का संक्रमण आमतौर पर आत्म-सीमित होता है और 3-5 दिनों में ठीक हो जाता है, और मृत्युदर इस तरह के संक्रमण के लिए बेहद कम है।”

इस बीच, बच्चों को बुखार होने के मुद्दे ने राज्यभर में राजनीतिक बहस छेड़ दी है।

विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने ट्वीट किया, “मैं पश्चिम बंगाल के स्वास्थ्य सचिव से आग्रह करता हूं कि कृपया उत्तर बंगाल से आ रही दुखद खबरों पर ध्यान दें, जहां 750 से अधिक बच्चों को तेज बुखार और फ्लू जैसे लक्षणों के लिए अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। कृपया जल्द से जल्द उपाय शुरू करें, क्योंकि छह शिशुओं की मौत हो चुकी है।”

उन्होंने कहा, “पश्चिम बंगाल प्रशासन भवानीपुर उपचुनाव में व्यस्त है, क्योंकि यह उनकी प्राथमिकता है। इसलिए, मैं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया जी से आग्रह करता हूं कि हमारे बच्चों को बचाने के लिए पश्चिम बंगाल स्वास्थ्य विभाग की सहायता के लिए विशेषज्ञों की एक केंद्रीय टीम तुरंत भेजें।”

राजनीति

23 महीने जेल में रहने के बाद आजम खान का बेटा जमानत पर रिहा

Published

on

समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ सांसद मोहम्मद आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को लगभग 23 महीने की कैद के बाद सीतापुर जेल से जमानत पर रिहा कर दिया गया है।

अब्दुल्ला को शनिवार शाम को रिहा कर दिया गया। अब्दुल्ला ने कहा कि वह आगामी विधानसभा चुनाव निश्चित रूप से सुर विधानसभा क्षेत्र से लड़ेंगे और लोगों का आशीर्वाद लेंगे।

सीतापुर जेल के गेट के बाहर इंतजार कर रहे अपने समर्थकों का हाथ हिलाते हुए अब्दुल्ला आजम ने कहा कि मैं सिर्फ एक ही बात कहूंगा कि 10 मार्च के बाद जुल्म खत्म हो जाएगा और जुल्म करने वाले को भी गद्दी से उतार दिया जाएगा।

आजम खान के छोटे बेटे अब्दुल्ला पर उनके पिता के साथ चोरी से लेकर जबरन वसूली और जालसाजी तक के 43 मामले दर्ज हैं।

इन सभी मामलों में अब्दुल्ला को रामपुर की निचली अदालतों से जमानत मिल चुकी है।

जमानत के बाद रिहाई के आदेश शनिवार दोपहर तक सीतापुर जेल भेज दिए गए, जिसने बाद में शाम को अब्दुल्ला की रिहाई का रास्ता साफ हो गया था।

आजम की पत्नी तजीन फातिमा दिसंबर 2020 में सीतापुर जेल से रिहा हुई थीं।

इस बीच, आजम खान को अभी तक उन सभी में जमानत नहीं मिली है।

अब्दुल्ला 2017 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के टिकट पर सुर निर्वाचन क्षेत्र से जीते थे। हालांकि, उनके खिलाफ एक मामले की सुनवाई करते हुए, 2019 में इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने उत्तर प्रदेश के विधायक के रूप में उनके चुनाव को इस आधार पर रद्द कर दिया कि वह कम उम्र के थे और 2017 में चुनाव लड़ने के लिए योग्य नहीं थे।

मोहम्मद आजम खान और उनके परिवार के लिए मुसीबत 2017 में शुरू हुई जब उत्तर प्रदेश में भाजपा सत्ता में आई।

चुनाव के कुछ महीने बाद ही आजम खान के खिलाफ रामपुर के तत्कालीन जिलाधिकारी द्वारा अनुसूचित जाति के लोगों की 104 एकड़ जमीन नियमों के खिलाफ खरीदने के लिए राजस्व बोर्ड में 10 मामले दर्ज किए गए थे।

2019 में, कुछ महीनों के भीतर जालसाजी, चोरी, जबरन वसूली और अन्य अपराधों के लिए आजम खान और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ 70 से अधिक मामले दर्ज किए गए थे। अधिकांश मामले जौहर विश्वविद्यालय के निर्माण में हड़पी गई भूमि के अतिक्रमण से संबंधित थे, जिसके अध्यक्ष आजम खान हैं।

आजम खान पर एक सरकारी स्कूल से पुरानी किताबें चुराकर अपने पुस्तकालय में रखने का भी आरोप लगाया गया। शिकायत पर कार्रवाई करते हुए, पुलिस ने जौहर अली विश्वविद्यालय के अंदर स्थित मुमताज पुस्तकालय में छापा मारा और वहां से 2,000 से अधिक पुरानी किताबें बरामद कीं। उनके खिलाफ कई मामलों को देखते हुए, जिला प्रशासन ने उन्हें रामपुर में भू-माफिया के रूप में भी नामित किया।

खान ने पहले तो इन मामलों की आलोचना की लेकिन बाद में बढ़ते दबाव और बार-बार अदालती नोटिसों के आगे घुटने टेक दिए। उन्होंने कई मामलों में अग्रिम जमानत लेने की भी कोशिश की लेकिन असफल रहे।

आखिरकार फरवरी 2020 में आजम, उनकी पत्नी और बेटे अब्दुल्ला आजम ने रामपुर में एक एमपी-एमएलए कोर्ट के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। कोर्ट के आदेश पर तीनों को बाद में सीतापुर जेल शिफ्ट कर दिया गया।

Continue Reading

राजनीति

यूपी चुनाव: टिकट बंटवारे को लेकर कांग्रेस में मची अफरा-तफरी

Published

on

उत्तर प्रदेश कांग्रेस 125 विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवार के चयन के बाद अफरा-तफरी मच गई है। हस्तिनापुर से कांग्रेस ने एक्ट्रेस और मॉडल अर्चना गौतम को टिकट दिया है, जिसके बाद से सियासी उठापटक तेज हो गई है।

कांग्रेस द्वारा अभिनेता को अपना उम्मीदवार बनाए जाने के कुछ दिनों बाद, अर्चना गौतम की बिकनी वाली तस्वीरें सोशल मीडिया पर सामने आने लगी हैं।

हिंदू महासभा अब यह कहने के लिए कूद पड़ी है कि हस्तिनापुर के ‘प्राचीन, पवित्र शहर’ से उनकी उम्मीदवारी हिंदुओं का अपमान है और इससे हिंदुओं और जैनियों की भावनाओं को ठेस पहुंची है, जिनमें से कई इसे तीर्थस्थल मानते हैं।

हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक शर्मा ने कहा, “यह कोई रहस्य नहीं है कि महाभारत-युग हस्तिनापुर, जो एक जैन तीर्थस्थल भी है, हिंदुओं सहित विभिन्न धर्मों के अनुयायियों द्वारा पूजनीय है। कांग्रेस ने यहां से बिकनी मॉडल को मैदान में उतारा है। हम इस कदम का कड़ा विरोध करते हैं और पार्टी से उनका नाम वापस लेने की अपील करते हैं, वरना हम विरोध करने के लिए मजबूर होंगे।”

इस बीच, भाजपा के पश्चिम यूपी के उपाध्यक्ष मनोज पोसवाल ने कहा, “मुझे किसी पेशे या व्यक्ति के खिलाफ कोई परेशानी नहीं है, लेकिन एक पार्टी को सावधान रहना चाहिए कि उसके कार्यों से आम जनता को क्या संदेश जाएगा।”

कांग्रेस के भीतर भी अर्चना गौतम को टिकट दिए जाने को लेकर काफी नाराजगी है।

पार्टी के विभिन्न व्हाट्सएप ग्रुप उम्मीदवार की पसंद और इसके पीछे के तर्क पर सवाल उठा रहे हैं।

समूह में एक कांग्रेस नेता ने लिखा, अर्चना गौतम ने एक पार्टी कार्यक्रम में कब भाग लिया है और कांग्रेस में उनका क्या योगदान है? वह एक पीड़ित भी नहीं है, जबकि एक अन्य ने प्रियंका गांधी के लिए ‘बुद्धि शुद्धि यज्ञ’ का सुझाव दिया।

ब्यूटी पेजेंट विजेता और अभिनेत्री 26 वर्षीय अर्चना गौतम, आखिरी बार एडल्ट कॉमेडी ‘ग्रेट ग्रैंड मस्ती’ में नजर आईं थी, हालांकि, इससे कोई फर्क नहीं पड़ा।

उन्होंने मीडिया से कहा, “मैं इसे सिर्फ ट्रोलिंग के अलावा और कुछ नहीं मानती। मेरा जन्म हस्तिनापुर में हुआ था, यह मेरा जन्मस्थान है। मैं इस क्षेत्र को अंदर और बाहर से जानती हूं और इसलिए प्रियंका ने मुझे उपयुक्त पाया। जो लोग मेरी बिकनी पहने तस्वीरों को प्रसारित कर रहे हैं, उन्होंने अपनी खुद की मानसिकता उजागर कर दी हैं। मैं जो करती हूं उस पर मुझे गर्व है।”

आलोचना का खंडन करते हुए, कांग्रेस के एक वरिष्ठ प्रवक्ता ने कहा, “किस तरह की मानसिकता एक महिला को उसके द्वारा स्क्रीन पर चित्रित की गई भूमिका या उनके द्वारा चुने गए पेशे से आंकती है। यहां तक कि (भाजपा नेता) स्मृति ईरानी भी टीवी धारावाहिकों में आने से पहले एक मॉडल थीं। हम उन लोगों का समर्थन नहीं करते, जो उनके मॉडलिंग के दिनों के पोस्टर साझा करते हैं।”

उत्तर प्रदेश में हस्तिनापुर मेरठ जिले में गंगा के तट पर एक छोटा शहर और विधानसभा क्षेत्र है। यह महाभारत में वर्णित कुरु साम्राज्य की राजधानी थी और पांडेश्वर और कर्ण मंदिरों जैसे विभिन्न पूजा स्थलों का घर है।

हस्तिनापुर भी एक प्रमुख जैन तीर्थस्थल है, क्योंकि इसे तीन जैन तीथर्ंकरों का जन्मस्थान माना जाता है और इसमें बड़ी संख्या में जैन मंदिर हैं।

इस बीच, प्रियंका मौर्य – यूपी चुनाव के लिए पार्टी के अभियान ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ की पोस्टर गर्ल ने आरोप लगाया है कि उन्हें विधानसभा चुनाव के लिए टिकट से वंचित कर दिया गया था, क्योंकि उन्होंने रिश्वत देने से इनकार कर दिया था।

उन्होंने दावा किया कि टिकट उन्हें देने के बजाय एक महीने पहले पार्टी में शामिल हुए व्यक्ति को दिया गया।

मौर्य ने कहा, “मैंने सभी औपचारिकताएं पूरी कीं लेकिन टिकट पूर्व नियोजित था और एक महीने पहले आए व्यक्ति को दिया गया। मैं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी को यह संदेश देना चाहती हूं कि इस तरह की चीजें जमीन पर हो रही हैं।”

उन्होंने आगे आरोप लगाया कि उन्हें एक अज्ञात व्यक्ति का फोन आया, जिसमें फोन करने वाले ने उनसे टिकट के बदले में पैसे मांगे, जिसके लिए उन्होंने मना कर दिया था।

Continue Reading

राजनीति

आप की योजनाओं से गोवा के प्रत्येक परिवार को 10 लाख रुपये का फायदा होगा: केजरीवाल

Published

on

 गोवा में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि अगर आम आदमी पार्टी (आप) 14 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव में राज्य में सत्ता में आती है, तो गोवा में प्रत्येक परिवार को राज्य सरकार की योजनाओं के माध्यम से पांच वर्षों में 10 लाख रुपये का लाभ होगा। पणजी में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने यह भी कहा कि आप अधिकारियों पर असफल छापेमारी का आदेश देते हुए खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनजाने में अपनी पार्टी को ईमानदारी का प्रमाण पत्र दे दिया है।

“प्रत्येक परिवार को पांच वर्षों में 10 लाख रुपये का लाभ होगा। कैसे? मुफ्त बिजली और सब्सिडी वाले पानी के बिल, बेरोजगारी भत्ता, महिलाओं के लिए भत्ता, मुफ्त स्वास्थ्य उपचार, सरकारी स्कूलों में मुफ्त शिक्षा के माध्यम से। पूरी लागत प्रति परिवार प्रति वर्ष दो लाख है पांच साल में यह 10 लाख रुपये होगा।”

उन्होंने कहा, “जब वे (प्रतिद्वंद्वी दल) आपको पैसे देने आते हैं, तो याद रखें, अगर आप ‘आप’ को वोट देते हैं तो आपको 10 लाख रुपये का फायदा होगा। इससे ज्यादा फायदेमंद क्या है – 2000 रुपये की रिश्वत या 10 लाख रुपये?”

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उनकी पार्टी, (जो राष्ट्रीय राजधानी में सरकार चला रही है) स्वतंत्र भारत में सबसे ईमानदार पार्टी है।

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुझ पर (दिल्ली के मुख्यमंत्री) मनीष सिसोदिया पर छापेमारी कर आप को ईमानदारी का प्रमाण पत्र दिया है। सीबीआई छापेमारी, पुलिस छापेमारी.. उन्होंने हमारे 21 विधायकों को गिरफ्तार किया, उन्होंने हर जगह छापेमारी की।”

केजरीवाल ने कहा, “उन्होंने 400 (दिल्ली सरकार) फाइलों की जांच के लिए एक आयोग का गठन भी किया। उन्हें एक भी गलती नहीं मिली। यह 1947 के बाद से आजाद भारत की सबसे ईमानदार पार्टी है।”

Continue Reading
Advertisement
राजनीति7 hours ago

23 महीने जेल में रहने के बाद आजम खान का बेटा जमानत पर रिहा

अपराध7 hours ago

सीबीआई ने घूसखोरी मामले में गेल निदेशक को गिरफ्तार किया

राजनीति7 hours ago

यूपी चुनाव: टिकट बंटवारे को लेकर कांग्रेस में मची अफरा-तफरी

राजनीति7 hours ago

आप की योजनाओं से गोवा के प्रत्येक परिवार को 10 लाख रुपये का फायदा होगा: केजरीवाल

राजनीति8 hours ago

यूपी विधानसभा 2022: AIMIM ने जारी की पहली सूची

राष्ट्रीय8 hours ago

छत्तीसगढ़ में पांच साल में 15 लाख लोगों केा रोजगार देने की तैयारी

महाराष्ट्र8 hours ago

महाराष्ट्र सरकार ने एलन मस्क को राज्य में अपना संयंत्र स्थापित करने के लिए आमंत्रित किया

राजनीति8 hours ago

मोदी का राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस भारतीय उद्यमियों के लिए एक नई शुरूआत

बॉलीवुड8 hours ago

कैटरीना कैफ की संडे सेल्फी ने जीता फैंस का दिल

बॉलीवुड8 hours ago

मलयालम सुपरस्टार ममूटी हुए कोरोना पॉजिटिव, ‘सीबीआई 5’ की शूटिंग रोकी गई

uddhav
महाराष्ट्र2 weeks ago

बीएमसी चुनाव के मद्देनजर ठाकरे सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब 500 स्क्वायर फुट वाले घरों का प्रॉपर्टी टैक्स होगा माफ

School-Child
राजनीति2 weeks ago

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर मुंबई में 31 जनवरी तक स्कूल फिर से बंद, सिर्फ 10वीं और 12वीं की चलेगी कक्षाएं

महाराष्ट्र1 week ago

पांच राज्यों में चुनाव तारीखों की घोषणा, यूपी में सात चरणों में मतदान, 10 मार्च को वोटों की गिनती

सामान्य3 weeks ago

मुंबई में प्रतिबंधों के बीच कोरोना विस्फोट, एक दिन में आए 2510 नये केस

महाराष्ट्र3 weeks ago

यूपी और एमपी के बाद अब महाराष्ट्र में भी रात के कर्फ्यू की घोषणा, नई गाइडलाइन्स आज रात 9 बजे से ही लागू

अपराध4 weeks ago

अभिनेता अरमान कोहली को नहीं मिली राहत, बॉम्बे हाईकोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका

महाराष्ट्र2 weeks ago

महाराष्ट्र में तीसरी लहर से 80,000 मौतों की चेतावनी

महाराष्ट्र1 week ago

सोमवार से लागू होगी सख्त गाइडलाइन्स, मुंबई में कोरोना के नये मामले लगातार तीसरे दिन भी 20 हजार के पार

अपराध2 weeks ago

हिंदू महिलाओं के बारे में अपमानजनक पोस्ट करने पर सरकार ने टेलीग्राम चैनल को किया ब्लॉक

अपराध1 week ago

जावेद हबीब मामला: ब्यूटीशियन पूजा ने पुलिस में दर्ज कराया मुकदमा

अपराध2 years ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध2 years ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

बॉलीवुड3 years ago

शाहरूख खान की आने वाली फिल्म जीरो का ट्रेलर इस दिन होगा रिलीज

बॉलीवुड3 years ago

पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन का कभी देखा है इतना हॉट लुक

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की के खिलाफ आरपीएफ ने दर्ज किया केस

बॉलीवुड3 years ago

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर अभिनेता नाना पाटेकर जल्द ही देंगे जवाब

मनोरंजन3 years ago

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरूख खान को इस वजह से किया सैलूट

बॉलीवुड3 years ago

जानिए आखिर क्यों गोल्डन गर्ल आशा पारेख ने नहीं की शादी

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की की पहचान आई सामने, जानिए कौन है वो लड़की

अपराध3 years ago

देखिए मुंबई में हुए एक दर्दनांक हादसे का वीडियो

रुझान