Connect with us
Wednesday,26-January-2022

राजनीति

कोविड महामारी में अनाथ हुए बचे को मिलेगी 10 लाख की सहायता : डब्ल्यूसीडी

Published

on

 कोविड-19 में अपने परिवार को खोने वाले अनाथ बच्चों के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (डब्ल्यूसीडी) ने पोर्टल बनाया है।

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के अनुसार जिन्होंने कोविड-19 महामारी के कारण माता-पिता या कानूनी अभिभावक या दत्तक माता-पिता दोनों को खो दिया है।

यह योजना शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए सहायता प्रदान करती है और प्रत्येक बच्चे के 18 वर्ष की आयु तक पहुंचने पर उसके लिए 10 लाख रुपये का कोष बनाएगी।

हालांकि इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कोविड महामारी के कारण कानूनी अभिभावक या दत्तक माता-पिता दोनों को खो चुके बच्चों का समर्थन करने के लिए पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना की घोषणा की थी। फिलहाल पोर्टल के सम्बंध में महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने जानकारी दी है कि अब तक 5491 आवेदन आ चुके हैं, जिनमें से 3049 आवेदनों को उचित प्रक्रिया के बाद जिलाधिकारियों द्वारा अनुमोदित किया गया है और 483 आवेदन अनुमोदन के लिए लंबित हैं।

उन्होंने कहा कि यह योजना शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए सहायता प्रदान करती है और प्रत्येक बच्चे के 18 वर्ष की आयु के होने पर उसके लिए 10 लाख रुपये का कोष तैयार करेगी। इस कोष का उपयोग 18 वर्ष की आयु से मासिक वित्तीय सहायता या वजीफा देने के लिए किया जाएगा। इससे अगले 5 वर्षों के लिए उच्च शिक्षा की अवधि के दौरान अपनी व्यक्तिगत आवश्यकताओं की देखभाल के लिए और 23 वर्ष की आयु तक पहुंचने पर, वह या उसे व्यक्तिगत और व्यावसायिक उपयोग के लिए एकमुश्त राशि के रूप में कॉर्पस राशि मिलेगी। यह योजना एक ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से उपलब्ध है।

इसके साथ ही मंत्रालय बाल संरक्षण सेवा (सीपीएस) योजना नामक एक केंद्र प्रायोजित योजना लागू कर रहा है जिसके तहत राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारों को जरूरतमंद और कठिन परिस्थितियों में बच्चों के लिए सेवाएं प्रदान करने के लिए सहायता प्रदान की जाती है। सीपीएस योजना के तहत स्थापित बाल देखभाल संस्थान (सीसीआई) अन्य बातों के साथ-साथ आयु-उपयुक्त शिक्षा, व्यावसायिक प्रशिक्षण तक पहुंच, मनोरंजन, स्वास्थ्य देखभाल, परामर्श आदि का समर्थन करते हैं और समान रूप से ग्रामीण और शहरी बच्चों को कवर करते हैं। योजना के दिशा-निर्देशों के अनुसार, देखभाल और संरक्षण की आवश्यकता वाले बच्चों की गैर-संस्थागत देखभाल के लिए प्रति माह 2000 रुपये उपलब्ध है और प्रति बच्चा प्रति माह 2160 रुपये के रखरखाव अनुदान का प्रावधान है।

राजनीति

एडीजी अभिनव कुमार समेत उत्तराखंड के छह पुलिसकर्मियों को राष्ट्रपति का पुलिस पदक

Published

on

एडीजी अभिनव कुमार को विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक से नवाजा जाएगा। उन्हें यह सम्मान गणतंत्र दिवस पर प्रदान किया जाएगा। इनके अलावा पांच अधिकारियों और कर्मियों को सराहनीय सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक के लिए चुना गया है। सराहनीय सेवा के लिए पदक पाने वालों में चमोली के डीएसपी धन सिंह तोमर, पुलिस मुख्यालय में तैनात डीएसपी (एम) नंदन सिंह बिष्ट, पौड़ी के डीएसपी गणेश लाल, इंटेलिजेंस के इंस्पेक्टर महेश चंद चंदोला और सब इंस्पेक्टर विशेष श्रेणी चंपावत रमेश चंद भट्ट शामिल हैं। एडीजी अभिनव कुमार विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक पाने वाले उत्तराखंड के इकलौते अधिकारी हैं। अभिनव इस वक्त मुख्यालय में एडीजी प्रशासन की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। इससे पहले उन्होंने केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर रहते हुए कई जिम्मेदारियों को संभाला था। वह 1996 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं।

दून के रोचीपुरा निरंजनपुर देहरादून निवासी सीआईएसएफ सहायक कमांडेंट मधु सूदन सेमवाल को राष्ट्रपति पदक के लिए चुना गया है। मधुसूदन सेमवाल ने अपने 35 वर्ष के कार्यकाल में सीआईएसएफ के अलावा सीबीआई, राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग व एनआईए में रहते हुए महत्वपूर्ण सेवाएं प्रदान की हैं। इनकी एनआईए को स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका रही है। वर्तमान में अपनी बटालियन से इनकी तैनाती जम्मू-कश्मीर में रही है। सेमवाल की प्राथमिक शिक्षा केंद्रीय विद्यालय हरिद्वार और डीएवी कॉलेज देहरादून से हुई है।

देहरादून निवासी डीआईजी सीआरपीएफ विमल कुमार बिष्ट को राष्ट्रपति का विशिष्ट पदक दिया जाएगा। डीआईजी बिष्ट इस वक्त बिहार में तैनात हैं। वह 1989 को सीआरपीएफ में बतौर डीएसपी भर्ती हुए थे। बिष्ट ने अपने इस लंबे कार्यकाल में देश के लगभग हर हिस्से में सेवाएं दी हैं। जम्मू-कश्मीर के अशांत दिनों में भी उन्होंने अपने साहस और सूझबूझ का परिचय देते हुए बड़े काम किए हैं। उनकी शिक्षा भी देहरादून में ही हुई थी।

Continue Reading

राजनीति

गणतंत्र दिवस समारोह : उत्तराखंड की टोपी और मणिपुरी स्टोल में नजर आए पीएम नरेंद्र मोदी

Published

on

देश के 73वें गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड की टोपी और मणिपुरी स्टोल पहने नजर आए। नेशनल वॉर मेमोरियल पर देश के वीर शहीदों को श्रद्धांजलि देने और राजपथ पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के समय प्रधानमंत्री मोदी उत्तराखंड के राजकीय फूल ब्रह्मकमल लगी पहाड़ी टोपी और मणिपुर का स्टोल पहने नजर आए। केदारनाथ में पूजा करते समय प्रधानमंत्री हमेशा इसी फूल ( ब्रह्मकमल ) का उपयोग करते हैं।

गणतंत्र दिवस समारोह जैसे महत्वपूर्ण अवसर पर उत्तराखंड की पहाड़ी टोपी और मणिपुरी स्टोल पहनकर इन दोनों राज्यों की जनता को पीएम मोदी ने एक भावनात्मक संदेश भी देने का प्रयास किया है, जो इसके बाद आने वाली प्रतिक्रियाओं से भी साफ-साफ नजर आ रहा है।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राज्य की संस्कृति एवं परंपरा को गौरवान्वित करने के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार प्रकट करते हुए ट्वीट कर कहा , आज 73वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने ब्रह्मकमल से सुसज्जित देवभूमि उत्तराखण्ड की टोपी धारण कर हमारे राज्य की संस्कृति एवं परम्परा को गौरवान्वित किया है। मैं उत्तराखण्ड की सवा करोड़ जनता की ओर से माननीय प्रधानमंत्री जी का हार्दिक आभार प्रकट करता हूं।

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने पूर्वोत्तर की परंपरा का सम्मान करने के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार जताते हुए ट्वीट कर कहा कि 73 वें गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर मणिपुर के स्टोल को पहनकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वोत्तर की परंपरा का सम्मान किया है। मुख्यमंत्री ने पूर्वोत्तर पर हमेशा अपार स्नेह और आशीर्वाद बरसाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी के प्रति आभार भी जताया।

उत्तर प्रदेश , पंजाब और गोवा के साथ-साथ उत्तराखंड और मणिपुर में भी विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। वर्तमान में दोनों ही राज्यों में भाजपा की सरकार है। उत्तराखंड में एक ही चरण में 14 फरवरी को मतदान होना है जबकि मणिपुर में 2 चरणों में 27 फरवरी और 3 मार्च को वोट डाले जाएंगे।

Continue Reading

राजनीति

गणतंत्र दिवस के अवसर पर आज देशभक्ति के जोशीले नारो से गूंज उठा राजपथ

Published

on

राजधानी दिल्ली में बुधवार की सुबह कड़कड़ती ठंड भी यहां के राजसी राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड देखने आने वाले लोगों के हौसले को पस्त करने में नाकाम रही है।

राजपथ पर सुबह साढ़े पांच बजे से ही लोगों का आना शुरू हो गया, जबकि परेड तकरीबन सुबह 10.30 बजे से शुरू हुई।

हालांकि, इस साल भीड़ बीते साल की तुलना में कम है क्योंकि देश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के कारण कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है। इस साल भी भारत गणतंत्र दिवस को हल्के ढंग से मना रहा है।

राजपथ पर दर्शनार्थियों का लगभग हर सीट पर कब्जा है। यह भी उल्लेख किया जा सकता है कि बैठने की व्यवस्था दूरी बनाए रखने के कोरोना-प्रेरित प्रोटोकॉल को तहत की गई है।

सुरक्षाकर्मी राजपथ क्षेत्र के प्रवेश द्वार पर भी कोरोना टीकाकरण सर्टिफिकेट की जांच कर रहे हैं।

कतारों में खड़े लोगों को देशभक्ति के गीत और नारे लगाते और गाते हुए सुना जा सकता था।

सुबह के सर्द मौसम के बीच ‘भारत माता की जय’ और ‘वंदे मातरम’ के नारों ने लोगों की रगों में देशभक्ति की जगा दी।

Continue Reading
Advertisement
अपराध7 hours ago

रेलवे ने किया परीक्षाओं को रद्द किया, जांच कमेटी गठित की

अंतरराष्ट्रीय7 hours ago

एप्पल ने एयरटैग्स के लिए नई ‘व्यक्तिगत सुरक्षा उपयोगकर्ता गाइड’ लॉन्च की

बॉलीवुड7 hours ago

दूसरी बार कोरोना पॉजिटिव हुए चिरंजीवी

Amitabh
बॉलीवुड7 hours ago

गणतंत्र दिवस के अवसर पर बिग बी, करण जौहर, कंगना ने फैंस को दी शुभकामनाएं

अंतरराष्ट्रीय7 hours ago

मलिंगा को सौंपी जा सकती है श्रीलंका के तेज गेंदबाजी सलाहकार कोच की कमान : रिपोर्ट

Neeraj-Chopra
अंतरराष्ट्रीय8 hours ago

हरियाणा के ओलंपियन नीरज, पैरालंपिक विजेता सुमित पद्मश्री के लिए नामित

अंतरराष्ट्रीय8 hours ago

देवबंद के खिलाड़ियों ने गोवा में जीते पदक

अपराध8 hours ago

मानव तस्करी, देह व्यापार के 41 आरोपियों को 10-14 साल की कैद

राजनीति8 hours ago

एडीजी अभिनव कुमार समेत उत्तराखंड के छह पुलिसकर्मियों को राष्ट्रपति का पुलिस पदक

राजनीति8 hours ago

गणतंत्र दिवस समारोह : उत्तराखंड की टोपी और मणिपुरी स्टोल में नजर आए पीएम नरेंद्र मोदी

uddhav
महाराष्ट्र4 weeks ago

बीएमसी चुनाव के मद्देनजर ठाकरे सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब 500 स्क्वायर फुट वाले घरों का प्रॉपर्टी टैक्स होगा माफ

School-Child
राजनीति3 weeks ago

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर मुंबई में 31 जनवरी तक स्कूल फिर से बंद, सिर्फ 10वीं और 12वीं की चलेगी कक्षाएं

महाराष्ट्र3 weeks ago

पांच राज्यों में चुनाव तारीखों की घोषणा, यूपी में सात चरणों में मतदान, 10 मार्च को वोटों की गिनती

सामान्य4 weeks ago

मुंबई में प्रतिबंधों के बीच कोरोना विस्फोट, एक दिन में आए 2510 नये केस

महाराष्ट्र1 day ago

मुंबई प्रेस की खबर का असर, नगरसेवक से विधायक बने रईस कासिम शेख ने उर्दू भवन के समर्थन में आदित्य ठाकरे को लिखा खत

महाराष्ट्र4 weeks ago

महाराष्ट्र में तीसरी लहर से 80,000 मौतों की चेतावनी

महाराष्ट्र3 weeks ago

सोमवार से लागू होगी सख्त गाइडलाइन्स, मुंबई में कोरोना के नये मामले लगातार तीसरे दिन भी 20 हजार के पार

राजनीति1 week ago

यूपी विधानसभा 2022: AIMIM ने जारी की पहली सूची

अपराध3 weeks ago

एनसीबी में खत्म हुआ समीर वानखेड़े का कार्यकाल, डीजी-डीआरआई को करेंगे रिपोर्ट

अपराध3 weeks ago

जावेद हबीब मामला: ब्यूटीशियन पूजा ने पुलिस में दर्ज कराया मुकदमा

अपराध2 years ago

झोमेटो की महिला ने गाड़ी उठा कर ले जाने पर ट्रैफिक पुलिस को दी गालियां

अपराध2 years ago

मुंबई के भायखला ई वार्ड में स्थित केएसए ग्रांड के 18वें फ्लोर से गिरी लिफ्ट, एक शख्स घायल

बॉलीवुड3 years ago

शाहरूख खान की आने वाली फिल्म जीरो का ट्रेलर इस दिन होगा रिलीज

बॉलीवुड3 years ago

पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन का कभी देखा है इतना हॉट लुक

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की के खिलाफ आरपीएफ ने दर्ज किया केस

बॉलीवुड3 years ago

तनुश्री दत्ता के आरोपों पर अभिनेता नाना पाटेकर जल्द ही देंगे जवाब

मनोरंजन3 years ago

पीएम नरेंद्र मोदी ने शाहरूख खान को इस वजह से किया सैलूट

बॉलीवुड3 years ago

जानिए आखिर क्यों गोल्डन गर्ल आशा पारेख ने नहीं की शादी

अपराध3 years ago

मुंबई लोकल से गिरी लड़की की पहचान आई सामने, जानिए कौन है वो लड़की

अपराध3 years ago

देखिए मुंबई में हुए एक दर्दनांक हादसे का वीडियो

रुझान