Connect with us
Sunday,25-September-2022
ताज़ा खबर

अपराध

दिल्ली हाईकोर्ट को मिले 9 नए जज, कुल संख्या 44 हुई

Published

on

नौ नवनियुक्त न्यायाधीशों को बुधवार को दिल्ली हाईकोर्ट में पद की शपथ दिलाई गई, जिससे यहां न्यायाधीशों की संख्या बढ़कर 44 हो गई। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश विपिन सांघी ने न्यायाधीशों तारा विशाल गंजू, मिनी पुष्कर्ण, विकास महाजन, तुषार राव गेडेला, मनमीत प्रीतम सिंह अरोड़ा, सचिन दत्ता, अमित महाजन, गौरांग कंठ और सौरभ बनर्जी को शपथ दिलाई।

पिछले हफ्ते, केंद्र ने दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों के रूप में नौ अधिवक्ताओं की नियुक्ति को मंजूरी दी थी।

केंद्रीय कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने एक ट्वीट में कहा, “भारत के संविधान के तहत प्रदत्त शक्ति का प्रयोग करते हुए, निम्नलिखित अधिवक्ताओं को दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया जाता है। मैं उन सभी को शुभकामनाएं देता हूं।”

इस महीने की शुरुआत में, मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमना की अध्यक्षता वाले सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने दिल्ली हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के रूप में सात अधिवक्ताओं की सिफारिश की थी।

सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट पर अपलोड किए गए एक बयान में कहा गया है, “सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने 4 मई, 2022 को हुई अपनी बैठक में दिल्ली उच्च न्यायालय में निम्नलिखित अधिवक्ताओं को न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इनमें विकास महाजन, तुषार राव गेडेला, मनमीत प्रीतम सिंह अरोड़ा, सचिन दत्ता, अमित महाजन, गौरांग कंठ और सौरभ बनर्जी शामिल हैं।”

अपराध

महाराष्ट्र में 2021-22 में जानवरों के हमले में 86 लोगों की मौत

Published

on

ऐसे समय में जब पूरे देश का ध्यान मध्य प्रदेश के कुनो राष्ट्रीय उद्यान पर केंद्रित है, जहां नामीबिया से आठ चीते लाए गए हैं, नवीनतम आंकड़ों से पता चलता है कि पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में जानवरों के हमलों के कारण इंसानों के हताहतों की संख्या आश्चर्यजनक रूप से बढ़ी है। आंकड़ों का हवाला देते हुए, महाराष्ट्र के वन मंत्री सुधीर मुगंतीवार ने बताया कि 2019-20 में जंगली जानवरों के हमलों में कम से कम 47 लोगों की जान चली गई, 2020-21 में 80 लोग मारे गए, और 2021-22 में 86 लोगों की मौत हो गई।

राज्य में मानव-पशु संघर्ष की घटनाओं पर बोलते हुए, महाराष्ट्र के प्रधान मुख्य वन संरक्षक, सुनील लिमये ने कहा कि यह इतना अच्छा नहीं है, लेकिन इतना बुरा भी नहीं है। उन्होंने कहा कि यह बात इंसानों के समझने के लिए है, जानवरों के लिए नहीं।

अभयारण्यों से सटे इलाकों में स्पष्ट निर्देश के बावजूद मनुष्य लगातार वन्यजीव क्षेत्रों में प्रवेश या अतिक्रमण करते हैं। इंसान वन्यजीवों से अधिक से अधिक जगह हथिया रहे हैं, और जंगली जानवरों को अपने गलियारों का उपयोग करने की अनुमति नहीं देते। या जब वे देखे जाते हैं तो उनका पीछा भी करते हैं, जिसके चलते संघर्ष होता है, लिमये ने कहा।

उन्होंने कहा कि सरकार ने लोगों को जंगलों में भटकने से आगाह करने के लिए प्रतिक्रिया दल तैनात किए हैं, खासकर जब वन्यजीव बाहर निकलते हैं, यहां तक कि इस तरह की त्रासदियों के मामले में रैपिड रेस्क्यू टीमें भी इंसानों और जानवरों दोनों को बचाती हैं।

वन्यजीव संरक्षणवादी और बॉम्बे नेचुरल हिस्ट्री सोसाइटी (बीएनएचएस) के सचिव किशोर रिठे ने कहा कि फिर भी, महाराष्ट्र में मानव-पशु संघर्ष काफी व्यापरक है।

रिठे ने समझाया, यहां लोगों को बाघ, भालू, तेंदुए, जंगली सूअर से सबसे अधिक हमलों का सामना करना पड़ता है, मुख्य रूप से इंसानों के उनके इलाके में प्रवेश करने या भोजन के लिए अपने इलाकों से बाहर घूमने वाले जानवरों के कारण।

रीठे ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में महाराष्ट्र, पड़ोसी कर्नाटक और ओडिशा से बढ़ते हाथियों के खतरे से चिंतित है। हाथी उपजाऊ कृषि भूमि और फसलों पर कहर बरपा रहे हैं।

हाथी अब खास कर कोंकण में हैं और विदर्भ के जंगलों के कुछ हिस्सों में ‘प्रवासी’ हैं, साल में तीन-चार महीने यहां बिताते हैं, जिससे इंसानों और अन्य जंगली जीवों के लिए जटिलताएं बढ़ जाती हैं, रीठे ने कहा।

लिमये और रिथे दोनों ने मानव-पशु संघर्ष को कम करने के लिए एक चौतरफा रणनीति का आह्वान किया, जिसमें इंसान संघर्षों से बचने के लिए जानवरों की जरूरतों को समझे और उसके हिसाब से प्रतिक्रिया दे।

महाराष्ट्र ने अब तक राज्य भर में 52 वन्यजीव अभयारण्य / रिजर्व घोषित किए हैं, और जल्द ही सात और जुड़ने वाले हैं।

मुनगंटीवार ने कहा कि इससे 13,000 वर्ग किमी तक का इलाका संरक्षित क्षेत्रों में आ जाएगा — विशेष रूप से राष्ट्रीय उद्यानों / अभयारण्यों / रिजर्व या उन्हें जोड़ने वाले ‘जंगल कॉरिडोर’ से सटे इलाकों में।

इसके अलावा पिछले महीने एक स्वागत योग्य कदम में, राज्य सरकार ने वन्यजीवों के हमलों से इंसानों और मवेशियों को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए मुआवजे की राशि बढ़ाने का ऐलान किया है।

Continue Reading

अपराध

हैदराबाद में हिट एंड रन मामले में महिला डॉक्टर की मौत, गिरफ्त में आरोपी इब्राहिम

Published

on

death

हैदराबाद के मलकपेट इलाके में तीन दिन पहले हिट एंड रन मामले में घायल हुई एक युवती ने शनिवार तड़के अस्पताल में दम तोड़ दिया।

21 सितंबर को डेंटिस्ट डॉ श्रावणी जब अपनी स्कूटी से घर लौट रही थी, तब एक तेज रफ्तार कार ने उन्हें टक्कर मार दी। घटना के बाद ड्राइवर मौके से फरार हो गया।

हादसे में महिला डॉक्टर के सिर में गंभीर चोटें आई और उसे निजाम के आयुर्विज्ञान संस्थान (एनआईएमएस) में भर्ती कराया गया, जहां उसने शनिवार को अंतिम सांस ली।

श्रावणी के परिवार के लिए एक महीने से भी कम समय में यह दूसरे सदस्य की मौत है। 25 दिन पहले ही उनकी मां की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी।

वहीं, पुलिस ने कार की शिनाख्त कर आरोपी ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है। उसकी पहचान ओल्ड मलकपेट निवासी 19 वर्षीय इब्राहिम के रूप में हुई है।

पुलिस ने आरोपी के पास से लाइसेंस और वाहन दस्तावेज बरामद किया है। उसके खिलाफ मलकपेट थाने में मामला दर्ज किया गया है।

Continue Reading

अपराध

देहरादून अंकिता हत्याकांड : मुख्य आरोपी पुलकित की फैक्ट्री में लगाई गई आग, विपक्ष ने फूंका सरकार का पुतला

Published

on

अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में जहां पूरे प्रदेश की जनता में आक्रोश व्याप्त है, तो वहीं विपक्ष भी अब इस मामले को लेकर सरकार को घेरने में लगा है। विपक्ष ने यहां सरकार का पुतला फूंका और अंकिता के हत्यारों को सख्त सजा की मांग की है। कल जहां एक तरफ लोगों ने आरोपी पुलकित आर्य के रिसोर्ट में तोड़फोड़ की थी तो वहीं आज उसकी फैक्ट्री में भी आग लगा दी गई। इन सब के बीच प्रदेश के मुखिया पुष्कर सिंह धामी ने भी सख्त संदेश देते हुए कल देर रात जहां आरोपी पुलकित आर्य के वन्तरा रिसोर्ट पर बुलडोजर चलवाया, तो वहीं पुलकित के पिता विनोद आर्य और छोटे भाई अंकित आर्य को पार्टी से हटा दिया गया है। अंकित आर्य को पिछड़ा वर्ग आयोग के उपाध्यक्ष पद से हटाया गया है। अंकित आर्य को मुख्यमंत्री ने ओबीसी आयोग पद से बर्खास्त कर दिया है।

अंकिता भंडारी मामले पर विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने भी गहरा शोक व्यक्त किया है। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि मानवता को शर्मसार करने वाली यह घटना हृदय विदारक है। उन्होंने इस घटना में संलिप्त सभी आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की बात कही है। उन्होंने कहा कि इस घटना में फास्ट ट्रैकिंग कार्रवाई होगी। विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने कहा कि आज हमने उत्तराखंड की एक बेटी को खोया है, जिसके लिए सभी दुखी हैं। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी सांत्वना व्यक्त की है। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश सरकार एवं वह खुद बेटी के परिवारजनों के साथ हैं। दोषियों को सजा देकर न्याय जरूर मिलेगा।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड का समाज इस प्रकार की घटना को कतई बर्दाश्त नहीं करेगा। अब हमें इस ओर सोचने की आवश्यकता है कि राजस्व पुलिस प्रदेश में कितनी कारगर है। क्या राजस्व पुलिस को पुलिसिंग के अधिकार दिए जाने चाहिए? इसके साथ ही विधानसभा अध्यक्ष ने कहा है कि सभी अवैध रिजॉर्ट की जांच के लिए कड़े निर्णय लिए जाने की आवश्यकता है।

अंकिता भंडारी मर्डर केस मामले में पूरे प्रदेश में लोगों में खासा आक्रोश है। अंकिता के हत्यारों पुलकित आर्य और उसके 2 साथियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं शव मिलने के बाद लोग आरोपियों को फांसी की मांग कर रहे हैं। वहीं अंकिता भंडारी की हत्या के आरोपियों को फांसी की मांग कर रहे लोग एम्स पहुंचे। वहां पर स्थानीय विधायक रेनू बिष्ट की गाड़ी में आक्रोशित भीड़ ने तोड़फोड़ की। वहीं माहौल खराब होता देख विधायक वहां से निकल गईं।

नगर निगम और राजस्व विभाग की टीम पुलकित आर्य के घर पुहंची है। जिसके बाद पूर्व राज्य मंत्री विनोद आर्य ने कहा कि हम प्रशासन को पूरा सहयोग देंगे। नगर निगम और राजस्व विभाग की टीम पुलकित आर्य के घर का जायजा ले रही है।

Continue Reading
Advertisement
अपराध7 hours ago

महाराष्ट्र में 2021-22 में जानवरों के हमले में 86 लोगों की मौत

महाराष्ट्र1 day ago

अमरावती सांसद नवनीत राणा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, मुंबई की एक अदालत ने जारी किया गैर ज़मानती वारंट

राष्ट्रीय1 day ago

2 में से 1 वरिष्ठ व्यावसायिक अधिकारी मंदी के दौर को देख रहे : रिपोर्ट

अंतरराष्ट्रीय1 day ago

2022 की चौथी तिमाही में डीआरएएम चिप की कीमतों में 13-18 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान

बॉलीवुड1 day ago

‘गन्स एंड गुलाब्स’ के साथ 90 के दशक का रोमांस, एक्शन लेकर आए दुलकर, राजकुमार

अंतरराष्ट्रीय1 day ago

आयरलैंड और बांग्लादेश ने 2023 महिला टी20 विश्व कप में किया प्रवेश

अंतरराष्ट्रीय1 day ago

टेनिस दिग्गजों ने नम आंखों से दी रोजर फेडरर को विदाई

अंतरराष्ट्रीय1 day ago

लाइन और लेंथ के साथ अपनी योजना पर टिके रहना मेरे लिए महत्वपूर्ण था : अक्षर पटेल

death
अपराध1 day ago

हैदराबाद में हिट एंड रन मामले में महिला डॉक्टर की मौत, गिरफ्त में आरोपी इब्राहिम

अपराध1 day ago

देहरादून अंकिता हत्याकांड : मुख्य आरोपी पुलकित की फैक्ट्री में लगाई गई आग, विपक्ष ने फूंका सरकार का पुतला

राजनीति3 weeks ago

झारखंड विधानसभा में हेमंत सोरेन सरकार ने जीता विश्वास मत, भाजपा का बहिष्कार

महाराष्ट्र3 weeks ago

भारत में कोविड के 7,219 नए मामले दर्ज, 33 मौतें

राजनीति2 weeks ago

भारत का दूध उत्पादन 6 फीसदी बढ़ा जो वैश्विक औसत से अधिक है : प्रधानमंत्री

अपराध4 weeks ago

हिजाब मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा, ‘हम फोरम शॉपिंग की इजाजत नहीं देंगे’

राजनीति2 weeks ago

भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी 25 किमी की पदयात्रा करना चाहते : जयराम रमेश

राजनीति3 weeks ago

17 सितंबर को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाएं, तेलंगाना मुक्ति दिवस नहीं: ओवैसी

अपराध2 weeks ago

चीन के सिचुआन में भूकंप से मरने वालों की संख्या 93 तक पहुंची

राजनीति4 weeks ago

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात के बाद बोलीं मायावती- देश को उनसे बहुत सारी आशाएं हैं

महाराष्ट्र4 weeks ago

शिंदे सेना और भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए महाविकास आघाड़ी के घटक दल एक साथ चुनाव लड़ेंगे: अजित दादा पवार

अपराध4 weeks ago

गोवा फॉरवर्ड पार्टी ने फोगाट की मौत पर सीएम सावंत से पूछे तीखे सवाल

रुझान